विडियो देखिये:- इस्लाम अगर आतंकवाद सिखाता तो भारत में एक भी हिन्दू नहीं बचता – आचार्य ओंकारनन्द

इस्लाम को लेकर लोगों ने बड़ी गन्दी और फजूल धारणा बना रखी है | ये सब कुछ एक साजिश के तहत हो रहा है जिसमे ऐसा किया जा रहा है कि इस्लाम की छवि एक आतंकी मजहब की बनाई जाए लेकिन हकीकत ये है कि इस्लाम शांतिप्रिय,किसी को नुकसान न पहुँचाने वाले और आतंक को बढ़ावा न देने वाला मजहब है | कुरआन में साफ़ साफ़ जिक्र है कि आतंक में लिप्त होने वाला मुसलमान नहीं हो सकता है |

 

इस बारे में जानकारी लोगो को होती नहीं है क्योकि उन्होंने कभी इस्लाम का अधयन्न नहीं किया है बल्कि लोगों की सुनी सुनाई बातों पर यकीन किया है | जिस दिन लोगों ने कुरआन का अधयन्न कर लिया उस दिन उनकी इस्लाम को लेकर धारणा ही बदल जाएगी | इस्लाम वो मजहब है जो नमाज के वक़्त फालतू पानी वजू में बहाने की इजाजत तक नहीं देता तो सोचो जो मजहब पानी बहाने की इजाजत नहीं देता वो खून बहाने की इजाजत कैसे देगा |

इस्लाम की गलत छवि को दूर करने और लोगों में असल इस्लाम को पहुँचाने के लिये आचार्य ओंकारनन्द सामने आये हैं और एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि लोगों ने ऐसा मान लिया है कि इस्लाम आतंकवादी मजहब है | उन्होंने कहा कि अगर एक बार को ये मान लिया जाए कि इस्लाम ऐसा है लेकिन अगर इस्लाम आतंकवादी हुआ तो इस पूरी दुनिया को ख़त्म होने में महज एक दिन लगेगा |

ओंकारनन्द ने अपनी बार आगे कहते हुए ये कहा कि हम लोग धार्मिक हैं और हम लोग अपने अपने धर्म को बचाने के लिए आगे आते हैं न कि किसी को आतंकवादी बनाने लेकिन यहाँ कुछ ताकतें ऐसा काम कर रही हैं जिससे इस्लाम की छवि को धूमिल किया जा सके |

ये देश विभिन्न संस्कृतियों को एक साथ जीने वाला देश है और यहाँ पर हर मजहब के लोग आपस में बड़े अच्छे से और एक दुसरे का सम्मान करते हुए रहते हैं लेकिन ये सियासी लोगों को मंजूर नहीं | अगर देश में अमन रहेगा तो फिर इनकी राजनीती कैसे चलेगी और इसी चक्कर में हिन्दू और मुसलमान को आपस में लड़ाने का काम ये सियासत करती रहती है |

जरूरी ये है कि हिन्दू-मुसलमान इस बारे में खुद विचार करें और इन सियासी लोगों की गलत मंशा को कायम न होने दें ताकि इस देश में सब शांति से रह सकें| मुसलमान आतंक को बढ़ावा नहीं देते बल्कि ये कुछ सरफिरे लोग है जो हर मजहब में  होते हैं जो  आतंक को बढ़ावा देते हैं |

देखिये वीडियो:-

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट मैं छोड़े

पोपुलर खबरें