‘आई लव मुस्लिम्स’ लिखना इस मासूम को पड़ा इतना महंगा कि सुनकर ही रुंह काँप जाएगी

धर्म विशेष के ठेकेदार बने बैठे कुछ संगठन आए दिन प्रशासन की नाक के नीचे अपनी आसमाजिक गतिविधियों को अंजाम देते दिखाई देते हैं. इसे मोदी सरकार की नाकामियाबी ही समझिए कि केंद्र में सरकार के 3 साल पूरे होने के बाद भी वो अभी तक इन सभी लोगों पर लगाम नहीं लग पाई है. सरकार की इसी असफलता का सबूत देते हुए हाल ही में वॉट्सऐप पर ‘आई लव मुस्लिम्स’ लिखने वाली लड़की के सुसाइड के बाद देशभर में एक नया विवाद खड़ा हो गया है. जिसके बाद देशभर में गुंडागर्दी करने वाले संगठन बजरंग दल ने कर्नाटक में चेतावनी दी है कि “हिंदू लड़कियां दूसरे धर्म के लड़कों से दोस्ती न करें अन्यथा उन्हें इसकी भारी कीमत चुकानी होगी.”

source

आत्महत्या करने से पहले मृतक को बीजेपी के नेता से मिली थी धमकी

जानकारी के लिए बता दें कि महज तीन दिन पहले जिस 20 वर्षीय युवती को बीजेपी यूथ विंग के एक स्थानीय नेता ने धमकाया था उसने अब आत्महत्या कर ली है. मृतक युवती ने अपने एक मित्र से मेसेज पर बात करते हुए ‘आई लव मुस्लिम्स’ कहा था, जिसके बाद उसके दोस्त ने उसकी चैट का स्क्रीनशॉट वायरल कर दिया था.

स्क्रीनशॉट के वायरल होने के बाद बजरंग दल ने जारी की थी लड़कियों को चेतावनी 

इस पूरे वाक्य के बाद सोशल मीडिया के व्हाट्सएप प्लेटफार्म के जरिये बजरंग दल की मुदीगीर शाखा ने एक बार फिर प्रशासन को ताक़ पर रखते हुए चेतावनी दी. जिसमें उसने साफ़ तौर पर कहा कि, “जो भी लड़की गैर हिंदू लड़कों के साथ घूमती मिलेगी, उसे इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी, क्योंकि हिंदू धर्म की रक्षा करना बजरंग दल का दायित्व है.”

जब मामले ने तूल पकड़ी तो स्थानीय पुलिस ने मैसेज पर संज्ञान लेते हुए ‘मोरल पुलिसिंग’ करने वाले लोगों पर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया, लेकिन बावजूद इसके बजरंग दल के कई बड़े नेता इस चेतावनी को अभी भी सही ठहरा रहे है.

source

जानिए आखिर क्या है पूरा मामला?

-बीकॉम की छात्रा धन्याश्री बीते शुक्रवार अपने संतोष नाम के एक दोस्त से वॉट्सऐप पर बात कर रही थी जहाँ दोनों के बीच जाति और धर्म को लेकर बहस होने लगी.

-इसी दौरान संतोष के एक सवाल का जवाब देते हुए उसने लिखा, ‘मैं मुस्लिमों से प्यार करती हूं.’ 

-इस पर संतोष भड़क गया और उसने मृतक को मुस्लिमों से किसी भी तरह का रिश्ता न रखने की चेतावनी दी.

-मृतक को चेतावनी देते हुए संतोष ने दोनों की बातचीत का स्क्रीनशॉट बंजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के सदस्यों के साथ शेयर कर दिया.

-जो बाद में सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया.

-इसके अगले ही दिन शनिवार को धन्याश्री को चिकमंगलूर के नजदीक मुदीगीर शहर में उसके कमरे में लटका पाया गया.

source-पुलिस जांच में चिकमंगलूर के एसपी एम अन्नामलाई ने इस बात का खुलासा करते हुए बताया कि मृतक के आत्महत्या करने से पहले कुछ युवा विंग के नेता, धन्याश्री के घर गए थे, जिसमें बीजेपी यूथ विंग (भारतीय जनता युवा मोर्चा) के अनिलराज भी शामिल थे.

-पुलिस ने ये भी साफ़ किया कि सभी ने मृतिका और उसकी मां को धमकाया था. जिसके बाद अगले ही दिन धन्याश्री ने सुसाइड कर लिया.

-पुलिस को धन्याश्री के शव के पास से एक नोट भी मिला. जिसमें उसने इस दुखद घटना से अपनी जिंदगी और पढ़ाई-लिखाई बर्बाद होने की बात कही है.

source

पुलिस ने किया भाजपा युवा मोर्चा के नेता को गिरफ्तार 

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने मुदीगीर शहर के बीजेपी युवा मोर्चा अध्यक्ष अनिलराज को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस अब मामले की जांच करते हुए अन्य मुख्य आरोपी संतोष और तीन अन्य लोगों की तलाश कर रही है. इसके साथ ही पुलिस उन लोगों पर भी कार्रवाई करेगी, जिन्होंने इस मैसेज को व्हाट्सएप पर शेयर किया था.

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

पोपुलर खबरें