Religion

देखें: मंदिर के पुजारी ने मस्जिद के लिए दान कर दी जमीन क्योंकि…

आज जहां हमारे देश में धर्मों की विरासत होने के बावजूद लोग इसे अपने फायदे के लिए इस्तेमाल करते हुए धर्म के नाम पर नफरत फैलाने का काम कर रहे हैं। तो वहीं बीते कुछ सालों में देश के किसी न किसी कोने में धर्म को लेकर हिंसा, साम्प्रदायिक दंगे होना भी एक आम बात होती जा रही है।

धर्मों को लेकर जब जब हुए हिंसक दंगे

हाल ही में गणतंत्र दिवस के दिन यूपी के कासगंज की हिंसा ने सबको दहला कर रख दिया था। दो समुदायों के बीच हुई इस झड़प में एक व्यक्ति की जान चली गई तो कई अन्य लोग बुरी तरह जख्मी हो गए। इलाके में कर्फ्यू लगाने के बाद भी स्थिति गंभीर ही रही।

दूसरी तरफ देश में धर्म को लेकर पैदा की गई सबसे बड़ा मामला राम मंदिर व बाबरी मस्जिद, जो देश की सबसे बड़ी अदालत में लंबित है। इस मसले पर भी सुप्रीम कोर्ट आज गुरुवार से अपनी आखिरी सुनवाई करने जा रहा है। आपको बता दें कि इस विवादित मामले पर पूरे देश की नजरे टिकीं हुई हैं।

धर्मों के जाल की चपेट से दूर हैं कुछ लोग

जहां धर्म, जाति व मंदिरों को लेकर ये बढ़ते विवाद थमने का नाम नहीं ले रहे, तो वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग ऐसे भी मौजूद हैं जो हर मसले को धर्म से न जोड़कर इंसानियत के महतत्व को समझते हैं। शायद इन लोगों की वजह से ही आज हमारा देश तरक्की के रास्ते पर चल रहा है। ठीक इसी तरह कर्नाटक के लोगों ने गंगा जमुनी तहजीब की एक खूबसूरत मिसाल पेश की है।

कन्नड़ के लोगों ने की बड़ी मिसाल कायम

यह मामला दक्षिण भारत के कन्नड़ जिले की है जहां के स्थानीय लोगों ने हिन्दू मुस्लिम भाईचारा की अहमियत कायम रखते हुए एक बहुत ही खूबसूरत पहल की है।

जितना मंदिर उतना ही मस्जिद

आपको बता दें कि यहां के एलिया श्री विष्णुमूर्ती मंदिर के पुजारी मोहन राय ने मंदिर की जमीन का 12 सेंट हिस्सा मस्जिद के लिए दान किया है।

मंदिर की जमीन में मस्जिद के लिए दान किया गया हिस्सा पूरे मंदिर का आधा भाग है। जिसका मतलब साफ है कि जितने हिस्से में मंदिर मौजूद है ठीक उतनी ही हिस्से में एक मस्जिद भी बनाई जा सकेगी।

लोगों ने पुजारी की दरियादिली पर किया धन्यवाद

पुजारी द्वारा उठाये गए इस कदम को वहां के लोगों ने काफी सराहा है और उनकी इस दरियादिली के लिए उन्हें धन्यवाद किया है।

Story Source : http://buzzy-feed.com/pujari-donate-land-to-mosque/

नयी खबर पढने के लिए अगले अगले पेज पे जाएँ

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े