रोहिंग्या मुसलमानों की मदद के लिए इस ताकतवर देश ने बढाया हाथ, किया इतनी बड़ी रकम देने का ऐलान

शेयर करें

दुनिया में जहां धर्मों के नाम पर हो रही हिंसा और बंटवारे को देखें तो इतिहास भी इस बात का गवाह है कि धर्म को लेर कितने अत्याचार किए गए हैं। यह सब न केवल हिंदू और मुस्लिम समाज में ही देखा गया है बल्कि हिंदू धर्म की ही बात की जाए तो यहां जातिवाद सबसे बड़ा मुद्दा है। हमारे देश में आज भी ऊंची और नीची जाति को लेकर बहुत भेदभाव किया जाता है।

रोहिंग्या मुसलमानों के लिए असुरक्षित माहौल

मौजूदा समय को देखते हुए बात करें, म्यांमार में ही मुसलमानों के हालातों को देख लें तो पता चलता है कि धर्म के नाम इंसानियत कितना गिर सकती है। आज इंसानों में वो नजरिया रहा ही नहीं कि वे किसी धर्म के चश्मे से नहीं बल्कि एक अच्छे इंसान के रुप में देख सकें।

तुर्की ने की मदद की पहल

म्यांमार में मुसलमानों पर किए गए अत्याचार को लेकर किसी भी ताकतवर देश ने आगे आकर आवाज उठाने की कोशिश नहीं की, जिन्होंने कोशिश की भी तो उसे किसी ने नहीं सुना। लेकिन वहीं दूसरी तरफ इस बुरे वक्त में तुर्की एक ऐसा देश रहा जिसने आगे इन लोगों के लिए मदद का हाथ बढ़ाया। तुर्की की इस मदद से बांग्लादेश को इतने पैसे की मदद की गई कि वे म्यांमार से अपनी जान बचाकर आए मुसलमानों को अपने यहां रखने का दबाव बनाया।

तुर्की की इस छोटी पहल का असर देखने को भी मिला और इसके बाद की एक दूसरे अमीर व ताकतवर देश ने रोहिंग्या मुसलमानों के लिए बड़ा कदम उठाने की पहल की है।

स्विटजरलैंड के राष्ट्रपति ने मदद के लिए इतनी बड़ी रकम का ऐलान

रोहिंग्या मुसलमानों को मदद देने वाला यह देश स्विटजरलैंड है। स्विटजरलैंड के राष्ट्रपति ने रोहिंग्या मुसलमानों के लिए एक करोड़ बीस लाख डॉलर की मदद देने का फैसला किया है। स्विटजरलैंड के राष्ट्रपति ने बांगलादेश के दौरे पर शेख हसीना से मुलाकात की और रोहिंग्या मुसलमानों को मदद देने का ऐलान किया।

यूएन की बैठक में कहा, हर तरह से रोहिंग्या मुसलमानों की करेंगे मदद

आपको बता दें कि म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों की यह हालत जब हुई जब वहां मुसलमानों के खिलाफ हिंसा की गई थी। इस बीच वहां रहने वाले मुसलमानों ने बांग्लादेश जाकर शरण लेना शुरु कर दिया था। इस बीच ही यूनाटेड नेशन की एक बैठक में स्विटजरलैंड के राष्ट्रपति ने कहा था कि वे हर तरह से रोहिंग्या मुसलमानों की मदद करेंगे।

आपको बता दें की स्वीटजरलैंड की यह मदद बांग्लादेश के जिला कुक्स बाजार में कई शरणार्थियों को पिछले साल मिलने वाली अस्सी लाख साठ हजार अमेरिकी डॉलर की गई थी।

Story Source : http://www.theakhbaar.in/viral-video-world-best-powerful-country-support-rohingya-muslim/


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े