जानिए ऐसा क्या हुआ कि एक साथ 50 लोगों ने हिंदू धर्म छोड़ अपनाया इस्लाम

शेयर करें

जहां एक तरफ पूरे देश ही नहीं बल्कि पूरे देश में ताकतें इस्ताम को बदनाम करने की कवायद में लगी हुई है। तो वहीं लोगों का इस्लाम की तरफ लगातार झुकाव बढ़ता जा रहा है। ऐसा ही कुछ देखने को मिला पालमपुर उपमंडल की पंचायत भरमात में। जहां पर बड़े पैमाने पर लोगों ने अपना धर्म बदला है।

गौरतलब है कि इस मामले के सामने आने से इलाके में हड़कंप मच गया है। दरअसल पालमपुर उपमंडल की पंचायत भरमात में एक ही समुदाय के 50 लोगों ने हिंदू धर्म को छोड़कर अपना धर्म बदल लिया है और सभी 50 लोगों ने एक साथ इस्लाम धर्म अपना लिया है।

घरों में इस्लाम से जुड़ी आ गई 

इन लोगों के घरों में भी अब इस्लाम धर्म से जुड़ी चीजें देखी जा रही है। और उसी के संबंधित चित्र देखे जा रहे हैं। पिछले कुछ वक्त से इन परिवारों के लोग समुदाय विशेष के संपर्क में थे और उनके प्रभाव में आने के बाद ही इन्होंने धर्म परिवर्तन किया है।

50 लोगों के एक साथ धर्म परिवर्तन करने से पूरे इलाके में चर्चा बहुत जोरों पर है। यहां तक कि अब इन लोगों ने अपने घरों से हिंदू देवी-देवताओँ की मूर्तियां और फोटो भी हटा दिए है। और इस्लाम से जुड़े चित्र लगा लिए हैं।

और लोगों ने भी छोड़ा हिंदू धर्म

गौरतलब है कि सूचना इस बात की भी है कि इन 50 लोगों के अलावा यहां रह रहे कुछ और राज्यों के लोगों ने भी हिंदू धर्म को छोड़कर इस्लाम अपना लिया है। चर्चा है कि इस तरह की गतिविधियां लंबे समय से इस गांव में चल रही थीं और धर्म परिवर्तन के बदले में पैसे के लेने की बातें भी सामने आ रही है।

गौरतलबै है कि 50 लोगों के एक साथ धर्म परिवर्तन करने की जानकारी प्रशासनिक अधिकारियों और पंचायत प्रधान को भी नहीं है जो कि एक हैरान करने वाली बात है।

हिंदू जागरण मंच की धमकी

हिंदू जागरण मंच के महामंत्री आकाशदीप जरयाल ने बताया कि इन लोगों को लालच देकर गरीब लोगों को ठगा जा रहा है। उन्होंने कहा कि इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और जिन लोगों ने भी ये धर्म परिवर्तन किया है उनकी हिंदू धर्म में वापसी करवाई जाएगी। इस तरह का काम करने वालों पर हिंदू जागरण मंच कार्रवाई भी करेगा।

वहीं जिले के एसडीएम बलवान चंद मंढोत्रा ने इस मामले में कहा है कि उन्हें ऐसी कोई जजानकारी नहीं है। तो वहीं पंचायत प्रधान विनोद कुमार ने भी इस तरह की जानकारी न होने की बात कही है। आपको बता दें कि कुछ साल पहले भी पालमपुर उपमंडल में धर्म परिवर्तन पर खासा विवाद हुआ था।


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े