जानिये वजह- मुस्लिम अंतिम संस्कार करने आए 20 गैर मुस्लिमों ने एक साथ अपनाया इस्लाम - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

जानिये वजह– मुस्लिम अंतिम संस्कार करने आए 20 गैर मुस्लिमों ने एक साथ अपनाया इस्लाम

भारत में जहां सबसे बड़ी समस्या है कि हमारे देश में लोगों के अंदर धर्म के नाम पर जहर घोला जाता है और एक दूसरे को लड़वा कर राजनीति करना अब नेताओँ की पुरानी आदत बन गई है। तो वहीं हमारे देश भारत की सब से बड़ी विशेषता ये है कि हम लोग अनेकता में एकता का प्रदर्शन करते हैं।

मुश्किल में आए साथ

आज तक भारत के नागरिक चाहे एक-दूसरे से लड़ते हो या कई बार दंगे हो जाते हैं लेकिन मुश्किल समय में एक-साथ खड़े जरूर हो जाते हैं। एक दूसरे से प्रेम, सद्व्यवहार, और सहानुभूति को मौके मौके पर दर्शाते भी रहते हैं।

वो तो कुछ नेताओं की आदत है भारतवासियों को उकसा कर लड़वाने की। नहीं तो आमतौर पर हर भारतीय एक दूसरे की खुशी और शोक में बराबर भाग लेते हैं।

कैसे किया जाए अंतिम संस्कार

इसी सम्बन्ध में डॉ सईद उमरी ने एक बयान दिया था कि एक दिन उनके पास फोन आया कि हमारे क्षेत्र में एक मुस्लिम महिला की मृत्यु हो गई है और इस क्षेत्र में कोई मुस्लिम नहीं है आखिर इसका अन्तिम संस्कार कैसे किया जाए?

डॉ सईद ने उन से निवेदन किया कि अगर आप लोग हमारे पास लाश को पहुंचा सकते हैं तो हम आप के आभारी होंगे। कुछ ही देर में बीस आदमी लाश ले कर वहां पहुंच गए और इसमें आश्चर्य की बात तो ये थी कि ये सभी 20 लोग गैर मुस्लिम मजहब से ताल्लुक रखते थे।

क्या होगा मरने के बाद

जब उस महिला के लिए कब्र खोदी जा रही थी तो डॉ सईद ने सारे गैर-मुस्लिम भाईयों के सामने इस बात पर रोशनी डाली की मरने के बाद क्या होगा? डॉ ने बताया कि किस तरह से मुस्लिम और गैर-मुस्लिम की आत्मा निकाली जाती है और कैसे उसे परिवार से बिल्कुल दूर तंग कोठरी में डाल दिया जाता है या जला दिया जाता है।

फिर एक दिन उस से अपने सांसारिक कर्मों का लेखा जोखा लिया जाएगा और जिस के आधार पर या तो उसे स्वर्ग का सुखमय जीवन मिलेगा या फिर नरक का दुखों से भरा हुआ जीवन मिलेगा।

फिर उन लोगों से पूछा कि आप लोग इन दोनों में कौन सा जीवन पसंद करेंगे? तो जाहिर सी बात है कि सबने कहा कि वो स्वर्ग का सुख भरा जीवन लेना चाहेंगे और तभी सब लोगों ने वहीं पर इस्लाम को स्वीकार कर लिया।

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

Close