होम Indian Politics

यूपी जीत के तुरंत बाद आ गया सपा बसपा गठबंधन पे दीदी मायावती का बयान, झूम उठे लोग

वायरल इन इंडिया संवाददाता -
शेयर करें

देश में जहां चुनाव का माहौल धीरे धीरे गर्माता जा रहा है वहीं हर राजनीतिक पार्टी के भी सुर ताल बदल रहे हैं। इस साल 8 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए इस के लिए राज्यों व नेशनल पार्टोयों ने अपनी कमर कसनी शुरु कर दी है। चुनावी मौसम सिर्फ 8 राज्यों के चुनाव पर ही सिमट कर नहीं रहेगा, बल्कि अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव की पृष्ठभूमि भी इसी दौरान तैयार की जाएगी। यही वजह है कि हर पार्टी खुद को साबित करने में एड़ी से चोटी तक का जोर लगाने की कोशिश में है।

वहीं दूसरी तरफ देश का सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश जहां पर जीत हासिल करना ही दिल्ली की कुर्सी जीतने का रास्ता तय करती है। इस चुनावी मौसम वह भी अपनी रणनीतियां तैयार करने के साथ ही जनता के आगे अपना भरोसा बनाने की कोशिश में लग गई है।

अखिलेश यादव ने बीएसपी के साथ गठबंधन के दिए संकेत

आपको बता दें कि एसपी मुखिया अखिलेश यादव ने विरोधी पार्टी बीएसपी के साथ गठबंधन बनाने के इशारे कर दिए हैं। एसपी द्वारा दिए गए संकेतों को देखते हुए बीएसपी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने गुरुवार को दिए अपने बयान दिया। इस दौरान दिल्ली में मीडिया से हुई बातचीत में सतीश चंद्र ने कहा, अभी सपा-बसपा गठबंधन को लेकर कोई वार्ता नहीं है। जब ऐसी कोई बात आएगी तो देखा जाएगा।

देखा जाए तो दूसरी तरफ बीएपी के राष्ट्रीय सचिव सतीश चंद्र ने बीएसपी और एसपी के भविष्य में साथ आने के भी संकेत दे ही दिए हैं।

बीएसपी राष्ट्रसचिव का गठबंधन पर बयान

इसके साथ ही सतीश चंद्र ने मायावती के यूपी में होने वाले उपचुनाव में हिस्सा लेने की बात को भी नकार दिया है। सतीश ने कहा, मायावती फूलपुर लोकसभा सीट के लिए होने वाले चुनाव को नहीं लड़ेंगी। पार्टी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए जनता दल सेक्युलर के साथ गठबंधन किया है। पार्टी 2019 में सरकार बनाने की तैयारी में जुटी है।

बीएसपी की आगे की रणनीति

इस दौरान जब उनसे दूसरा सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, पार्टी का वोट पर्सेंट लगातार बढ़ रहा है। 2014 में के लोकसभा चुनाव में भी पार्टी पूरे देश में तीसरे नंबर पर रही थी। 2017 के के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में ईवीएम में धांधली के बावजूद बसपा वोट पर्सेंट बढ़ा। हाल ही में संपन्न हुए नगर निकाय चुनाव में भी पार्टी के सबसे ज्यादा कॉर्पोरेटर जीते। जबकि बीजेपी तीसरे नंबर पर पहुंच गई। हमारा वोट प्रतिशत लगातार बढ़ रहा है।

अखिलेश करेंगे बुआजी (मायावती) से बात

जब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से गठबंधन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, सभी विपक्षी दलों और उनके नेताओं के साथ मेरे अच्छे संबंध हैं। हम समाजवादी लोग है, सभी को साथ लेकर चलने में विश्वास करते हैं। हम हर किसी का साथ ले लेंगे। अगर आपके कहने पर तैयार हो जाए तो हम उनका साथ ले लेंगे। लेकिन ऐसा होगा कैसे, समय आने पर पता चल जाएगा कि गठबंधन होगा कि नहीं। मैंने बुआजी (मायावती) से बात नहीं की है, लेकिन उनसे भी मेरे अच्छे संबंध हैं।

शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े