भाजपा के वरिष्ठ नेता अटल बिहारी वाजपेयी एम्स में भर्ती, सबसे पहले भाजपा नहीं बल्कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल पहुंचे मिलने

वाजपेयी के अस्पताल में भर्ती होने की खबर मिलते ही एम्स पहुंचे राहुल गांधी

देश के पूर्व प्रधानमंत्री व भारतीय जनता पार्टी के सबसे वरिष्ठ नेता अटल बिहारी वाजपेयी की खराब तबियकृत के चलते उन्हें इस समय दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हालांकि इस पर बीजेपी की तरफ से बयान दिया गया  है कि वाजपेयी को केवल एक रुटीन चेकअप के लिए भर्ती कराया गया है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता अटल बिहारी वाजपेयी की तबियत हुई खराब

आपको बता दें कि वाजपेयी का स्वास्थ्य कुछ समय से काफी खराब ही चल रहा है। यही कारण है कि वे अपने ही घर में थे। वहीं वाजपेयी की स्वास्थ्य की खबर लेने कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी उनसे मिलने एम्स पहुंच गए हैं। इससे पहले जबकि डॉक्टर ने कहा था कि वे किसी से मिल नहीं सकते हैं लेकिन राहुल गांधी उनसे यहां मिले।

एम्स में भर्ती वाजपेयी से मिलने पहुंचे राहुल गांधी

हालांकि डॉक्टर की देख रेख में मौजूद वाजपेयी इस समय कुछ स्थिर हैं और उनकी तबियक के मिजाज को देखते हुए ही डॉक्टर ने किसी को भी उनसे मिलने की इजाजत नही दी थी लेकिन जब कांग्रसे अध्यक्ष राहुल गांधी वहां पहुंचे तो उन्हें वाजपेयी से मिलने दिया गया। यहां राहुल गांधी ने उनसे उनकी तबियत पूछी।

भाजपा से कोई भी नहीं पहुंचा है वाजपेयी के हाल-चाल जानने 

वाजपेयी के स्वास्थ्य की गंभीर स्थिति को देखते हुए व उनके एम्स में भर्ती होने के बाद भी भाजपा के किसी नेता का कोई पता नहीं है। वहीं राहुल गांधी का वहां पहुंचना भी काफी चर्चा में हैं क्योंकि किसी भाजपा नेता के आने से पहले कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष वहां पहुंच गए, जो अपने आप में कई सवाल खड़ा करता है। साथ ही साबित होता है राजनीति में सही समय पर लिया गया कदम आपको किस तरह के परिणाम दिला सकता है।

इससे पहले घर में किया जा रहा था रुटीन चेकअप 

कहा जा रहा है कि वायपेयी के स्वास्थ्य को देखने व डॉक्टरों ने सलाह के बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया है। उनका चेकअप AIIMS के डायरेक्टर रणदीप गुलरिया की देखरेख में किया जा रहा है। इससे पहले तक डॉक्टर रूटीन चेकअप वाजपेयी के घर पर ही होता था, लेकिन अब उन्हें अस्पताल ही ले जाया गया है।

डिमेंशिया नामक बीमारी से जूझ रहे हैं 93 वर्षीय वाजेपयी

एम्स अस्पताल के मुताबिक अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत अभी स्थिर है, लगातार उनके टेस्ट किए जा रहे हैं। एम्स ने इस बारे में बयान जारी कर कहा कि उनकी हालत स्थिर है। आपको बता दें कि 93 साल के हो चुके अटल बिहारी वाजपेयी डिमेंशिया नाम की एक गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं। वे 2009 से ही व्हीलचेयर पर हैं।

आपको बता दें कि वाजपेयी 1991, 1996, 1998, 1999 और 2004 में लखनऊ से लोकसभा सदस्य चुने गए थे. वह बतौर प्रधानमंत्री अपना कार्यकाल पूर्ण करने वाले पहले और अभी तक एकमात्र गैर-कांग्रेसी नेता हैं. 25 दिसंबर, 1924 में जन्मे वाजपेयी ने भारत छोड़ो आंदोलन के जरिए 1942 में भारतीय राजनीति में कदम रखा था.

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

Viral in India Reporter

यह खबर वायरल इन इंडिया के वरिष्ट पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है| खबर में कोई त्रुटी होने पर हमें मेल के द्वारा संपर्क करें- [email protected]आप हमें इस फॉर्म से भी संपर्क कर सकते हैं, 2 घंटे में रिप्लाई दिया जायेगा |
Close