24 घंटे में गिर जाएगी भाजपा सरकार, कोर्ट ने सुना दिया फ़ैसला

शेयर करें

कर्नाटक में राज्यपाल वजुभाई वाला द्वारा बीजेपी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने के फैसले के विरोध में कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। जिस पर सुनवाई करते सुप्रीम कोर्ट ने बीएस येदिरुप्पा को मुख्यमंत्री पद के लिए शपथ ग्रहण करने से रोक लगाने पर इनकार कर दिया था सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा था कि इस मामले में कोर्ट दखल अंदाजी नहीं कर सकता जबकि कोर्ट ने बीजेपी को आज तक का समय दिया था कि वह जिन विधायकों के समर्थन हासिल करने का दावा कर रहे हैं पूरे आंकड़ों यानी कि 112 की लिस्ट सुप्रीम कोर्ट के समक्ष पेश करें। बीजेपी को दिया गया वक्त आज सुबह 10:30 बजे खत्म हो चुका है।

बीजेपी के वकील ने क्यों किया तत्काल फ्लोर टेस्ट कराने से मना

अब सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस द्वारा डाली गई याचिका पर सुनवाई चल रही है। बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी ने तत्काल फ्लोर टेस्ट कराए जाने का विरोध किया। इस मामले में उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से फ्लोर टेस्ट के लिए सोमवार तक का वक्त मांगा था लेकिन कोर्ट ने इससे इंकार कर दिया है।

सुप्रीम कोर्ट ने किया ये बड़ा ऐलान

मुकुल रोहतगी ने कहा कि हम अदालत को मुख्यमंत्री का पत्र दिखाएंगे, इससे पता चल जाएगा कि उनके पास समर्थन है और इस मामले में कोई खरीद-फरोख्‍त नहीं हुई है। इस मामले में जस्टिस सीकरी, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस बोबडे की तीन जजों की बेंच मामले की सुनवाई कर रही है। सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि शनिवार शाम 4 बजे सदन में बहुमत परीक्षण हो। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दोनों पक्ष के बहुमत पेश करने के दावे कर रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट कानून के अनुसार फैसला करेगा। कानूनी प्रकिया का पालन होना चाहिए।

बीजेपी को ही क्यों दिया राज्यपाल ने न्योता जबकि कांग्रेस के पास थे विधायकों के..

कांग्रेस के वकील अभिषेक मनु सिंघवी सिंघवी ने कोर्ट के आगे दलील देते हुए कहा है कि राज्यपाल कैसे बीजेपी को बहुमत सिद्ध करने का मौका दे सकते है, जबकि कांग्रेस जेडीएस के पास पूरी संख्या है। सिंघवी ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि येदियुरप्‍पा ने कहा सिर्फ बताया है की उनके पास बहुमत है और पूरे विधायकों का आंकड़ा उनके पास है। लेकिन उन्होंने नामों को पेश नहीं किया है। जबकि कांग्रेस-जेडीएस ने सभी 117 के नाम लिख कर राज्यपाल को दिए थे।

कपिल सिब्बल ने कहा- तुरंत हो फ्लोर टेस्ट, बीजेपी क्यों कर रही आनाकानी

कांग्रेस नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि कांग्रेस के साथ जेडीएस भी जल्दी फ्लोर टेस्ट चाहती है फ्लोर टेस्ट तुरन्त होना चाहिए। इसके साथ उन्होंने ये दावा भी किया की उनके पास सभी विधायकों के दस्तखत वाली चिट्ठी है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है की जिसे बहुमत साबित करने का न्योता दिया गया है वह जल्द से जल्द बहुमत साबित करे।


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े