भक्तों का मोदी पे गुस्सा फूटा, बोले – 2019 में हिमालय जाने की तैयारी कर लेना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार (6 अगस्त) को गौरक्षा के मुद्दे पर बोलते हुए अपना गुस्सा जाहिर किया। पीएम ने कहा कि कई लोगों ने गऊ रक्षा के नाम पर अपनी दुकानें चला रखी हैं। ऐसे में गाय की रक्षा करने में लगे लोग पीएम मोदी से गुस्सा हो गए। ऐसे लोगों का गुस्सा सोशल मीडिया पर भी निकला। इसमें से ज्यादातर लोग ऐसे थे जो अबतक बीजेपी के समर्थन में थे।
ये सभी लोग पीएम के बयान से नाराज थे। अपने ट्वीट में कोई पीएम को समझा रहा था, तो कोई धमकी दे रहा था। इसके लिए #गर्व_से_कहो_गौरक्षक_है ‘ट्रेंड भी कर रहा था।

abuse-modi

इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने फर्जी गौसवकों पर भी हमला बोला। पीएम मोदी ने कहा कि गौसवकों के नाम पर लोगों ने अपनी दुकानें खोल ली हैं।
पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें यह सब देखकर बहुत गुस्सा आता है। मोदी ने बताया कि कुछ लोग रात में गैर कानूनी काम करते हैं और दिन में गौसेवक बन जाते हैं। मोदी ने राज्य सरकारों से ऐसे लोगों का लेखा-जोखा तैयार करने को भी कहा। मोदी ने दावा किया कि 70-80 प्रतिशत लोग नकली गौ-सेवक हैं।
पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘आपको जानकर हैरानी होगी कि ज्यादातर गाय कत्ल की वजह से नहीं प्लास्टिक खाने से मरती हैं। एक बार मैंने देखा कि एक गाय के पेट में से पूरे दो बाल्टी प्लास्टिक निकला। ऐसे गौ सेवकों से मेरा अनुरोध है कि वे गाय का प्लास्टिक खाना बंद करवा दें और लोगों द्वारा प्लास्टिक फेंकना बंद करवा दें तो वह असली सेवा होगी।’

Source: http://www.jansatta.com/ 

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

पोपुलर खबरें