दाती महाराज ने मेरे शरीर को जानवरों की तरह नोचा और जिसके बाद भी मन नहीं भरा तो उन्होंने मेरे…

शेयर करें

शनिधाम के संस्थापक महाराज उर्फ मदनलाल राजस्थानी पर उसकी एक शिष्या ने गैंगरेप के आरोप लगाए हैं।

पीड़िता द्वारा इस मामले में दर्ज कराई गई एफआईआर के बाद अब इस ढोंगी बाबा दाती महाराज के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 376, 377, 354 और 34 के तहत केस दर्ज हुआ है।

 

ये मामला साल 2016 का है, पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह पिछले दस साल से दाती महाराज की शिष्या थी।

लेकिन महाराज और चेलों ने उसके साथ बार-बार गैंग-रेप किया जिसके बाद वह अपने घर राजस्थान लौट गई।

रेप के आरोप में फंसा India TV वाला दाती महाराज


पीड़िता का कहना है की दिल्ली में उनके आश्रम में उसके साथ रे-प किया था लेकिन डर की वजह से वह इतने दिनों तक चुप रहीं और कोई शिकायत नहीं की। क्यूंकि उसे और उसके परिवार को जान का खतरा हो सकता है।

दाती महाराज दिल्ली के शनिधाम के संस्थापक हैं और कई टीवी चैनलों पर नियमित रूप से राशिफल प्रस्तुत करते हैं।

बड़े-बड़े राजनेताओं के साथ दक्षिणी दिल्ली में उनका एक बहुत बड़ा फार्म हाउस है। वहीँ से पीड़िता की शिकायत के बाद बाबा गायब हो गए हैं और इस मामले में उनके आश्रम के लोगों ने भी चुप्पी साध रखी हैं।

पुलिस ने बाबा के आश्रम में बाबा से पूछताछ के लिए कई बार जा चुकी है। लेकिन आरोपी बाबा का कोई सुराग नहीं मिला है।

दावा किया जा रहा है कि आरोपी दाती महाराज राजस्थान के पाली जिले के आश्रम में छिपा हुआ है।

पीड़िता ने पत्र लिखकर बताई अपनी दुखद आपबीती

पीड़िता ने दाती महाराज पर आरोप लगाते हुए आपबीती को पत्र के जरिये बताया है।

पीड़िता ने खत में लिखा है कि,

“मुझे नहीं पता शिकायत के बाद मेरा क्या होगा। शायद आप लोगों के बीच मैं रहूं या ना रहूं मगर औरों की जिंदगी बर्बाद ना हो इसलिए मैं आज इस बारे में शिकायत करने जा रही हूं किसी डर के कारण परिवारिक खात्मे के डर से हिम्मत ना कर सकी। मगर अब भले ही मेरी जान चली जाए जिसकी मुझे पूरी आशा है फिर भी मरने से पहले यह सच आप सबके सामने लाना चाहती हूं।”

FIR दर्ज होने के बाद बाबा आश्रम से हुआ फरार


वहीँ नवभारत टाइम्स के साथ बाबा ने व्हाट्सप्प के जरिये बातचीत की है।

उसने ऑडियो मैसेज के जरिये न्यूज़ चैनल को बताया है की पीड़िता द्वारा उसपर लगाए गए सब आरोप बेबुनियाद हैं।

उसने बताया है की अभी वह दिल्ली से बाहर है, लेकिन ये उसके खिलाफ पैसों के लेन-देन के चलते फंसाया गया है।

आपको बता दें आस्था के नाम पर इस तरह के बाबाओं के आश्रम के रहने वाली शिष्यों के यौन उत्पीड़न के मामले में कई धर्मगुरुओं का नाम सामने आ चुका है। जिनमें आसाराम, राम रहीम जैसों को सजा भी हो चुकी है।

निष्कर्ष:

 

आस्था के नाम पर आजकल बाबा लोग लड़कियों की ज़िन्दगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं, इनसे बचने के लिए आस्था के नाम पर अंधे न हो जाये, बल्कि लड़कियों को शिक्षा देकर सम्पूर्ण बनाये।

Story Source: https://hindi.news18.com/amp/news/nation/dati-maharaj-rape-case-victim-letter-1412640.html?__twitter_impression=true


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े