शिवसेना के इस नेता ने अपना 'मुस्लिम प्रेम' दिखाते हुए बनवाई मस्जिद लेकिन पार्टी के लोगों ने… - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

शिवसेना के इस नेता ने अपना ‘मुस्लिम प्रेम’ दिखाते हुए बनवाई मस्जिद लेकिन पार्टी के लोगों ने…

देशभर के मौजूदा समय में जहाँ एक तरफ कुछ राजनीति दल मज़हब के नाम पर नफरत की सियासी रोटियाँ सेकते दिख रहे हैं तो वहीँ दूसरी तरफ ऐसे भी कई लोग देश में मौजूद हैं जिन्होंने भारत की गंगा जमुना तहजीब को आज भी जिंदा रखा हुआ है.

शिवसेना ने भारत की गंगा जमुना तहजीब को किया याद

आज जहाँ सत्ताधारी भाजपा के कई बड़े नेता मज़हब का गन्दा खेल खेलने से बाज़ नहीं आते हैं तो वहीँ उसी भाजपा के सहयोगी दल शिवसेना ने हाल ही में धर्म को दरकिनार कर जो उदाहरण देश के आगे पेश किया है उसे देख हर कोई हैरान है.

शिवसेना के इस नेता ने जीता मुसलमानों का दिल

जी हाँ हाल ही में पेशे से मुंबई की जोगेशवरी क्षेत्र के वार्ड से बतौर कारपोरेटर और शिवसेना पार्टी के अग्रणी और सक्रिय नेता राजू श्री पदपण्डेकर ने जब मुंबई के प्रसिद्ध शिक्षण संस्थान मरकज़ उल मआरीफ एजुकेशन एंड रिसर्च सेंटर में आगमन किया तो संस्था द्वारा उनका बेहद गर्मजोशी से स्वागत किया गया.

मुसलमानों से मिले प्यार से भावुक होकर इस हिन्दू नेता ने किया ये ऐलान

संस्थान द्वारा मिली अतुल्य सम्मान और प्यार भरे स्वागत से भावुक होकर शिवसेना के नेता राजू श्री पदपण्डेकर ने अपनी गहरी भावनाओं को व्यक्त किया और उस मुस्लिम संस्था का शुक्रिया अदा करते हुए कहा..

“यह मेरे लिए अलादीन के चिराग़ जैसा है. जनता की पसंद से मैं पहले भी दो बार सामाजिक कार सेवक रह चुका हूं. लेकिन इस बार विपरीत परिस्थितियों में मेरा चयन खुदा की पसंद है, चुकी मेरी जिम्मेदारी मेरा फर्ज़ बन गया है. इसलिए मुंबई की मस्जिद में निर्माण में सहयोग करना मेरे लिए ख़ुशी की बात होगी, और यह मेरे द्वारा एहसान न होगा बल्कि फर्ज़ की अदायगी होगी.”

संस्था ने राजू श्री को उपहार में दी ये कीमती चीज़

राजू श्री द्वारा किसी इस्लामिक संस्था में यूँ आगमन करने पर संस्था ने खुश होकर उन्हें अंग्रेजी भाषा में सीरते नबवी स.अ.व. पर मरकज़ नुरुल मआरिफ के शिक्षक मौलाना मुमताज अहमद कासमी की एक अनोखी किताब उपहार के रूप में भेट करते हुए उनका तहे दिल से धन्यवाद किया.

निष्कर्ष

देश के जो राजनेता आज अपने पद का गलत इस्तेमाल करते हुए अपने मतलब के लिए देश को धर्म के नाम पर बाटने का काम कर रहे हैं, उन्हें आज राजू श्री जैसे नेताओं से जरुर कुछ सिखने की जरूरत है.

Related Articles

Close