सेक्स रैकेट चलते पकड़ी गयी भाजपा महिला नेता, देखें

शेयर करें

भारतीय सभ्यता और हिंदुत्व का गला फाड़ नारा लगाने वाली भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े लोगों ने भगवा की आड़ में हर घिनौना काम करना शुरु कर दिया है. 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद मिली जीत से इन लोगों के हौंसले बुलंद है. कोई भी कुकर्म करने से इन्हें परहेज नहीं रहा.

सेक्स रैकेट का कारोबार हो, अवैध हथियार का धंधा हो, ड्रग्स का धंधा हो, पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लिए जासूसी करना हो, इन्हें किसी काम से गुरेज नहीं और नहीं कोई लोक लाज. उपर से फर्जी राष्ट्रवाद का मुलम्मा और अंदर से इतनी गंदगी किसी दूसरे राजनीतिक संगठन में देखने को नहीं मिल सकती.

1. प्रतापगढ़ की घटना

भाजपा महिला मोर्चा की संगठन मंत्री और पूर्व सभासद रमा मिश्रा यहां देह व्यापार का धंधा चला रहीं थीं. बड़ी संख्या में उन्होंने लड़कियों को अपने जाल में फांस रखा था. बड़े बड़े नेताओं और अधिकारियों के यहां लड़कियां सप्लाई की जाती थी. हैरत की बात यह है कि प्रतापगढ़ पुलिस को जरा भी भनक नहीं थी कि पूर्व सभासद इस तरह के सेक्स रैकेट की सरगना है.

पोल तब खुली जब इन्हीं में से एक लड़की किसी तरह फरार होकर दिल्ली पहुंच गई और वहां के गोबिंद पुरी थाने में जाकर भाजपा नेता के कुकर्मों से पुलिस को अवगत कराया और रिपोर्ट दर्ज कराया. रिपोर्ट दर्ज होते हीं दिल्ली पुलिस हरकत में आई और यूपी पुलिस से संपर्क कर युवती के बताए ठिकाने पर छापेमारी की.

भाजपा नेता को छापेमारी की भनक लग गई थी. बिना मौका गवाएं अपने साथियों के साथ वहां से फरार हो गई लेकिन पुलिस को छापेमारी के दौरान कंडोम, पॉर्न फिल्मों की सीडी, शक्तिवर्धक कैप्सूल आदि मिले हैं.

2. महिला हित की बात करने में सबसे आगे

जब बात महिला सुरक्षा की आती है तो गला फाड़ कर चीखने वालों में ये सबसे आगे होते हैं. लोकसभा चुनाव 2014 में नरेंद्र मोदी नारे लगाते थकते नहीं थें कि बहुत हुआ नारी पर अत्याचार, अबकी बार मोदी सरकार लेकिन सरकार आते हीं बलात्कार की घटनाओं में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई. कई जगह तो इनके लोग हीं इस तरह की घटनाओं में संलिप्त पाए गए.

यौन शोषण की घटनाओं में भाजपा नेताओं का इस तरह से नाम उछलने लगा कि लोगों ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की जगह बेटियों को भाजपा से बचाओ कहना शुरु कर दिया.

निष्कर्ष :

भगवान राम के नाम पर राजनीति करने वाले लोग किसी का भी सौदा कर सकते हैं. अब यह निर्णय आपको करना है कि आपके कैसे लोगों को अपना भाग्य विधाता बनाते हैं क्योंकि अंतिम निर्णय तो जनता को हीं करना होता है.

source : https://openkhabar.com/bjp-leader-woman-was-driving-the-racket-of-prostitution/


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े