इस भारतीय मुस्लिम से ट्रम्प और अमेरिका भी डरते हैं, जानिए इसके पीछे की वजह - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

इस भारतीय मुस्लिम से ट्रम्प और अमेरिका भी डरते हैं, जानिए इसके पीछे की वजह

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को यूँ तो दुनियाभर का सबसे शक्तिशाली व्यक्ति माना जाता है, जो अक्सर मुस्लिम विरोधी बयान देकर सुर्ख़ियों में छाए रहते हैं.

इस मुस्लिम शख्स से ट्रम्प डरता है

लेकिन एक ऐसा भी मुस्लिम शख्स है जिसने न केवल ट्रम्प को शिखस्त दी हुई हैं बल्कि उसके नाम से भी ट्रम्प काँप उठता है.

यूएई का सबसे प्रभावशाली भारतीय

जी हाँ ये मुस्लिम शख्स और कोई नहीं बल्कि भारत के केरल में जन्मे यूएई के बड़े व्यवसायी और लूलू समूह के अध्यक्ष एम.ए. युसूफ अली है. जिन्होंने एक लम्बे अरसे से खाड़ी देशों में सबसे ज्यादा प्रभावशाली भारतीयों की सूची में अपना पहला स्थान लगातार बरकरार रखा हुआ है.

अमीरों की सूचि में युसूफ अली ने ट्रम्प को छोड़ा पीछे 

बता दे कि हर बार की तरह इस बार भी फोर्ब्स पत्रिका द्वारा हाल ही में 2018 के धनाढ़्य लोगों की एक सूची जारी की गई हैं जिसमें अली को दुनियाभर में 388वां स्थान मिला है, जबकि इसी सूचि में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप उनसे कोसों दूर 766वें स्थान पर हैं.

संपत्ति के मामले में ट्रम्प है कोसों पीछे 

जहाँ अगर अली की कुल संपति की बात करे तो वो करीब 5 बिलियन डॉलर आंकी गई है, जिसकी कीमत तकरीबन 5 अरब रूपये है. तो वहीं ट्रंप की संपत्ति लगभग 3.1 बिलियन अमेरिकी डालर आंकी गई है, जो अली से आधी है.

भारत के 8 खरबपतियों ने किया हुआ है यूएई की एक चौथाई संपत्ति पर कब्ज़ा  

इसके अलावा फोर्ब्स मैगज़ीन में ये भी दावा किया गया है कि भारत के महज 8 खरबपतियों का यूएई में लगभग 22.7 बिलियन डालर की संपति पर कब्जा है. इस लिस्ट में युसूफ अली के बाद मिकी जगतियानी (4.4 बिलियन डालर), बी.आर. शेट्टी (4 बिलियन डॉलर), रवि पिल्लई (3.9 बिलियन डॉलर), सनी वार्के (2.4 बिलियन डॉलर), जॉय सलुकिस (1.5 बिलियन डॉलर) और शमशेर वयालील (1.5 बिलियन डॉलर) का नंबर आता है.

खाड़ी देश में सबसे प्रभावशाली भारतीय है अली 

कहा जाता है कि करीब-करीब हर खाड़ी देश ने अली को सबसे प्रभावशाली भारतीय के रूप में दर्शाया है. उन्होंने ये मुकाम अपने लूलू समूह के पश्चिम एशिया के खुदरा क्षेत्र में मजबूत उपस्थिति बरकरार रखते हुए और नए बाजारों में अपनी उपस्थिति के विस्तार की योजना बनाते हुए हांसिल किया है.

बिल गेट्स नही रहा दुनिया का सबसे अमीर व्यक्ति

बीते बुधवार 2018 की फोर्ब्स ने सालाना अरबपतियों की सूची जारी करते हुए अमेरिकी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन डॉट कॉम के मालिक जेफरी प्रेस्टन बेजॉस को नंबर एक पर बताते हुआ बिल गेट्स से दुनिया के सबसे बड़े धनकुबेर का रुतबा छीन लिया है.

100 अरब डॉलर से ज्यादा की सम्पत्ति ने बनाया दुनिया का पहला अरबपति 

फोर्ब्स की माने तो 110 अरब डॉलर (करीब 7.15 लाख करोड़ रुपये) की कुल संपत्ति के साथ अब जेफ बेजॉस दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं. इसके साथ ही जेफ ने करीब 100 अरब डॉलर से ज्यादा की संपत्ति के साथ दुनिया के पहले अरबपति का ख़िताब हांसिल कर लिया है.

बिल गेट्स पहली बार पहुंचे दुसरे पायदान पर

इसके साथ ही बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक और सामाजिक कार्यों के लिए करोड़ों दान करने वाले बिल गेट्स को कई वर्षों बाद पहली बार दूसरे स्थान से ही काम चलाना पड़ा है. फोर्ब्स की 2018 की सूची में गेट्स की कुल संपत्ति 90 अरब डॉलर आंकी गई है.

मुकेश अंबानी की संपत्ति में भी हुआ बड़ा इजाफ़ा

बताते चले कि भारत के सबसे बड़े धनकुबेर और रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी अपनी 40.1 अरब डॉलर (करीब 2.61 लाख करोड़ रुपये) की संपत्ति के साथ इसी सूची में एक पायदान की बढ़त के साथ 19वें स्थान पर आए है. पिछले वर्ष उन्हें 20वा स्थान मिला था लेकिन इस साल उनकी संपत्ति में करीब आठ अरब डॉलर का इजाफा हुआ है.

Related Articles

Close