होम BJP

देश के मदरसों पर मनीषा भल्ला का बयान सुन हिल जाएगी मोदी सरकार !

वायरल इन इंडिया संवाददाता -
शेयर करें

आज देशभर में जहाँ मोदी राज में जगह-जगह पर तानाशाही माहौल के बीच इस्लामिक धर्म और मदरसों को लेकर लोगों को लगातार टारगेट बनाकर उनके साथ जाज्ती हो रही है, वो वाकई बेहद दुखद है.

उत्तर प्रदेश सरकार भी बना रही है मदरसों को निशाना

इसी राह पर चलते हुए अब विकास और कानून व्यवस्था के नाम पर उत्तर प्रदेश में भी सत्ता में बैठी बीजेपी की योगी सरकार द्वारा भी लगातार मदरसों पर निशाना साधा जा रहा है.

वरिष्ठ पत्रकार मनीषा भल्ला ने दिया मदरसों को लेकर बड़ा बयान

जैसा सभी जानते है कि सत्ता में आते ही इस्लाम विरोधी योगी सरकार लगातार राज्य के मदरसों को लेकर तरह-तरह के गाइडलाइन और फ़रमान जारी कर रही है. इन सबके बीच मुस्लिम सामाज को लेकर अब वरिष्ठ पत्रकार मनीषा भल्ला ने मदरसों पर ये बड़ा बयान देकर सनसनी मचा दी है.

मीडिया पर आधारित मदरसे के कार्यक्रम में दिया बयान

जी हाँ, हाल ही में मनीषा भल्ला ने जब यूपी के मुजफ्फरनगर जिले के कस्बा खतौली के एक छोटे से गांव फुलत में आयोजित मदरसे के एक मीडिया पर आधारित भव्य कार्यक्रम में हाले स्तिथि पर बोला और अपनी राय प्रकट की, तो मानो सत्ता में बैठी योगी सरकार भी हिल गई.

मनीषा ने की उर्दू ज़बान की जमकर तारीफ़

बता दें कि इस कार्यक्रम में मनीषा भल्ला इस्लाम के साथ-साथ उर्दू ज़बान की भी खूब तारीफ करती नज़र आई. उर्दू पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि “उन्हें उर्दू जुबान काफी अच्छी लगती है.”

मदरसों के बच्चों की उर्दू बोली है पसंद

इस दौरान ही उन्होंने ये भी कहा कि..

“मदरसे के बच्चो की उर्दू की जानकारी इतनी अच्छी, ज़ुबान इतनी साफ़ है कि ऐसी लगता है मुंह से फूल झड़ रहे हैं, तक़रीर सुनो तो लगता है कि कल के नेता यही हैं.”

मदरसों की तालीम को लेकर भी बढ़-चढ़ कर बोली मनीषा 

मनीषा ने मदरसों की तालीम पर बात करते हुए ये भी कहा कि..

“देश-विदेश के कार्यक्रमों में शरीक होने के मेरे अलग-अलग तजर्बे हैं. किसी भी सरकारी और ग़ैर सरकारी स्कूलों से इस मदरसे का मुक़ाबला नहीं किया जा सकता.”

मदरसे के बच्चे नहीं है किसी से कम

उन्होंने इसी के साथ आगे ये भी कहा,

“मदरसे के बच्चे जिस तरह से ज़बरदस्त अंग्रेज़ी बोलते हैं और साइंस और मैथ्स के सवाल हल करते हैं, वह काबिले तारीफ हैं.”

शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े