नफरत फ़ैलाने के लिए यहाँ बनाई गयी ताजमहल की कॉपी लेकिन इसका भी निकला मुस्लिम कनेक्शन

जैसा कि दुनिया के सात अजूबों में एक और प्यार की निशानी के साथ अपनी गज़ब की खूबसूरती के लिए ताजमहल पूरी दुनिया में मशहूर है ये तो सब जानते ही है | ऐसा कहा जाता है और इतिहास देखने पर हमें ज्ञात होता है कि शाहजहाँ ने इसे अपनी बेग़म मुमताज महल के लिए प्यार की निशानी के तौर पर बनवाया था और इसी के अंदर दोनों लोग दफन है | इस ताजमहल को देखने के लिए देश-दुनिया के कोने कोने से लोग आते हैं और इसकी खूबसूरती के दीवाने हो जाते हैं |

भारत में लेकिन इस समय ताजमहल को लेकर बड़ा ही विवाद चल रहा है और ये सब सियासी माहौल की वजह से है | इसे कुछ लोग महज राजनीती की रोटियां सेंकने के लिए प्यार की निशानी और शाहजहाँ द्वारा न बनवाया गया बताके एक शिव मंदिर होने की संज्ञा देते हैं जिसको लेकर देश में दो खेमें हो चुके हैं | यहाँ देश के अंदर माहौल इस कदर नफरतों से भर गया है कि इस प्यार की निशानी को देखकर लोग नफरतों में जी रहे हैं |

बन रही है ताजमहल की कॉपी

देश दुनिया में सभी लोग इस बात को जानते और मानते भी है कि ताजमहल की खूबसूरती का दूसरा कोई सानी है ही नहीं लेकिन फिर भी इसकी एक कॉपी बनाई जा रही है | ऐसी ख़बरें है कि बांग्लादेश के सोनारगांव में एक ताजमहल की हूबहू कॉपी ईमारत बनाई गयी है | ये ईमारत आम जनता के लिए मंगवार से खोल दी जाएगी ताकि वो इसे देखने का लुत्फ़ उठा सकें |

बीबीसी के एक संबाददाता ने इसको लेकर रिपोर्ट कवर की और बताया कि इस गज़ब की चर्चित ईमारत को बनाए जाये में तकरीबन 5 करोड़ 80 लाख डॉलर का खर्चा आया है | इस ईमारत के मालिक बांग्लादेश के अहसानुल्लाह मोनी है |

ईमारत को लेकर ये बोले मोनी

इस ईमारत को बनाने के पीछे का कारण जब मोनी से पूंछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्होंने ये ईमारत इसलिए बनवाई ताकि बांग्लादेश के वो बुजुर्ग और महिलाएं जो ताजमहल की खूबसूरती को देखने के लिए इंडिया नहीं जा सकते हैं वो प्यार की उस बेमिसाल निशानी को देखने का लुत्फ़ यहीं से उठा सकें |

आपको बता दें कि मोदी बंगलादेशी फिल्मों के जानेमाने और सफल निर्देशक है और उन्होंने बताया कि ये ईमारत बांग्लादेश की राजधानी ढाका से 1 घंटे की दूरी पर स्तिथ है और ये विदेशी शैलानियों को भी आकर्षित करेगी |उन्होंने इस ईमारत के लिए संगमरमर इटली और हीरे बेल्जियम से मंगवाए हैं |

source-http://buzzy-feed.com/tajmahal-copy-making-in-india/

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

पोपुलर खबरें