RELATED:अगर सुप्रीम कोर्ट ने ये विडियो देख लिया तोह...

वैसे ऐसी बातें करने का कोई मतलब नहीं लेकिन जब देश ऐसे दौर से जूझ रहा हो जहाँ मुस्लिमों को एक शक की नजर से देखा जाता हो तब ये बताना जरूरी हो जाता है कि ये वही कौम है जिस कौम ने देश को अशफाक़उल्ला खान दिया, अब्दुल कलाम दिया, जाकिर हुसैन दिया और न जाने कितने ही ऐसे नाम दिए जिनसे भारत का सर ऊंचा होता है ! इन्हीं नामों की लिस्ट में एक नाम और सुमार होता है और वो है मिर्ज़ा फैजान!

क्या किया ऐसा मिर्ज़ा फैजान ने

मिर्ज़ा फैजान पूरी दुनिया में अपनी पहचान बनाने वाला वो नाम है जिसने पूरे हिंदुस्तान का सीना गर्व से चौंडा कर दिया ! इन्हें ग्राउंड रियलिटी इनफार्मेशन प्रोसेसिंग सिस्टम (GRIPS) को तैयार करने के लिए पूरी दुनिया जानती है !

इस खोज से जो मिर्ज़ा ने की, हवाई जहाज के रनवे पर जो सुरक्षा होती है वो बहुत सुलभ हो गयी ! फैजान बिहार के रहने वाले है और इंडियन एरोस्पेस वैज्ञानिक है !

 

क्या कहते हैं फैजान इस बारे में

जब फैजान ने इस उपलब्धी के चलते इंटरव्यू में सवाल किये गये तो उन्होंने बताया कि इस एतिहासिक प्रोजेक्ट को खरीदने के लिए एक विदेशी कम्पनी उनके पास आई थी लेकिन उन्हें ऐसा लगा कि इस प्रोजेक्ट से देश का भला होना चाहिए तो उन्होंने इसे बेचा नहीं !

उनका कहना है कि वो चाहते थे कि दुनिया इस प्रोजेक्ट को लेकर ये जाने कि हिंदुस्तान के रहने वाले एक इंजीनियर ने एक ग्राउंड ब्रेकिंग सिस्टम को तैयार किया है ! यही एक मात्र कारण था कि उन्होंने इसे बेचा नहीं और इसकी कम्पनी भारत में ही बनायीं !

ऐसा पता चला है कि फैजान ने अपनी शुरुवाती पढाई पटना के संत केरन स्कूल से की और ग्रेजुएशन पटना यूनिवर्सिटी से की ! कंप्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग मनिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से की ! अभी हाल में मिर्ज़ा फैज़ान अमेरिका के शहर टेक्सास में रहते हैं और अमेरिकन इंस्टिट्यूट ऑफ़ एरोनॉटिक्स एंड आस्ट्रोनौटिक्स के सदस्य भी हैं!

--- ये खबर वरिष्ठ पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है वायरल इन इंडिया न्यूज़ पोर्टल के लिए

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट मैं छोड़े