अमित शाह के बेटे को एक्सपोज करने वाली रोहिणी सिंह ने सामने आकर दिया बड़ा बयान

अभी इस समय देश में एक ही खबर सुर्ख़ियों में है और सब की चर्चा का विषय भी यही खबर है कि अमित शाह के बेटे की कम्पनी का टर्नओवर एक साल में आखिर कैसे 16 हजार गुना बढ़ गया ! इस बारे में खुलासा करने वाली निर्भीक पत्रकार रोहिणी सिंह पहली बार पब्लिक में इस मुद्दे पर अपनी बात रखते हुए बोली हैं !

क्या बोली रोहिणी इस मुद्दे पर

रोहिणी ने अपनी बात कहने के लिए सोशल मीडिया को चुना और फेसबुक के जरिये वो बोली कि उन्होंने 2011 में भी रोबेर्ट वाड्रा को लेकर ऐसा ही कुछ खुलासे किये थे लेकिन उनको तब ऐसी धमकियाँ और प्रतिक्रियाएं नहीं मिली थी जिस तरह उन्हें इस मामले में करना पड़ रहा है !

सुबह तडके रोहिणी ने अपनी फेसबुक वाल पर पोस्ट करते हुए लिखा कि ‘मैं यह सब नहीं लिखना चाहती कि एक जर्नलिस्ट को क्या-क्या करना चाहिए । मैं सिर्फ अपने लिए बोल सकती हूं ,मेरा प्रमुख काम है सच बोलना । जिस दौर में जो सरकार रहेगी उससे सवाल करना । 2011 में जब मैंने रॉबर्ट वाड्रा पर DLF डील के बारे में स्टोरी लिखी थी तो मुझे नहीं याद कि इस तरह की कोई प्रतिक्रिया मिली थी ।”

रोहिणी को सोशल नेटवर्किंग से किया जा रहा परेशान

रोहिणी का इस संदर्भ में कहना है कि जब उन्होंने वाड्रा के बारे में एक्सपोज किया था तब आज की तरह व्हात्सप्प या फिर किसी ऑडियो मैसेज के तरत उनके बारे में ऐसा कुछ देखने को नहीं मिला था जो आज इस मामले में हो रहा  है !

आज उन्हें लोकेशन बदलनी पड़ रही है जबकि वाड्रा के मामले में ऐसा नहीं हुआ ! रोहिणी ने आगे ये भी बताया कि बीजेपी नेता के एक करीबी ने उनकी कॉल रिकॉर्ड करके कुछ भाजपा नेताओ के साथ शेयर किया है और उसको लेकर वो एक घटिया सी ऑनलाइन कैम्पेन चला रहे हैं !

दरअसल बात ऐसी है कि यहाँ ज्यादातर लोग तो पत्रकारिता के नाम पर सरकार के हक में खबरें चला रहे हैं और जो असली पत्रकार अपना काम कर रहे हैं उन्हें धमकाने डराने की कोशिश हुक्मरानों द्वारा होती रहती है लेकिन ऐसे लोग डरते नहीं है और अपना काम करते रहते हैं !

आगे रोहिणी ने ये सब भी कहा

रोहिणी इस मामले को लेकर थोडा उदास सी जरुर हैं क्योकि एक पत्रकार के साथ खबर दिखाने पर ऐसा ही तो जाहिर बात है कि उसका मन खिन्न होगा ही लेकिन रोहिणी का ये भी कहना है कि न्यूज़ वही है जिसे कोई दबाना चाहे बांकी सब तो विज्ञापन है !  वो कहती हैं कि दुसरे चाहे जो करते रहे लेकिन मुझे पता है कि मुझे मेरा दिमाग सिर्फ काम पर लगाना है और जब तक काम करूंगी ऐसे ही करूंगी न कि और पत्रकारों की तरह !

रोहिणी ने ये बात भी खासतौर से द्रष्टिगोचर करते हुए कहा कि वो ये सब स्टोरी इसलिए नहीं कवर करती कि वो कोई बहादुर टाइप है बल्कि इसलिए करती है क्योकि वो पत्रकार हैं ! जो काम उन्होंने किये वो बहादुरी नहीं पत्रकारिता है जो उनका असल काम है !

 

देखिये वीडियो:-

source-http://boltahindustan.com/exposing-jay-shah-is-not-bravery-but-journalism-and-i-will-continue-to-do-so-rohini/

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

पोपुलर खबरें