अंजना कश्यप ने कहा – “तेरी औकात नहीं है “

शेयर करें

यूँ तो पत्रकारिता को भारत के लोकतंत्र का चौथा सबसे मजबूत स्तंभ माना जाता हैं लेकिन आज बदलते समय के साथ ये स्तम्भ भी दीमक रूपी भ्रष्टाचार की भेट चढ़ता नज़र आ रहा है.

आज पत्रकार राजनीति पार्टियों के दलाल बनकर रह गये है

जी हाँ आज ऐसा लगता हैं कि कई पत्रकार अपना पत्रकारिता का असल धर्म छोडकर किसी व्यक्ति विशेष या किसी विशेष राजनीति दल को फ़ायदा पहुचाने के लिए उसके प्रचार में लगे पड़े है.

इसके लिए वो फ़जी या लोगों को गुमराह करने वाली झूठी खबरे फैलाने से भी पीछे नहीं हटते.

आज चैनलों पर जिस प्रकार लाइव डिबेट को अंजाम दिया जाता हैं उसमें बेकार के शोर के अलावा कुछ नहीं सुनाई देता. असल मुद्दा तो हमेशा ग़ायब हो नज़र आता है.

इन्ही कुछ पत्रकारों में से एक हैं आज तक चैनल की ओर से चाटूपत्रकारिता करने वाली महिला एंकर अंजना ओम कश्यप.

मोदी भक्ति करते हुए गालियाँ देती हैं एंकर अंजना ओम कश्यप

आज शायद ही कोई देश में हो जो अंजना ओम कश्यप से परिचित न हो.

हाँ हाँ वही महिला भक्त पत्रकार जो अपना नाम बताते बताते भी अपने नाम के साथ में मोदी का नाम ले लेती हैं.

इसी महिला पत्रकार अंजना की एक खासियत और है कि वो पत्रकारिता करते हुए गालियाँ देने के लिए मशहूर हैं.

जी हाँ जिस पत्रकार को हर स्तिथि में सयम बनाकर रखना चाहिए वो पत्रकार आज नेशनल चैनल पर गालियाँ देती हैं और ऐसी अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए लोगों को अपने सवालों का जवाब देने के लिए मजबूर करती हैं कि कोई भी सुनकर अपने कान पर हाथ रख लेगा.

पत्रकार की गरिमा को किया गया तार-तार

जैसा सब देखते हैं कि अंजना अपने शो पर आये हुए नेताओं के बीच डिबेट कराती दिखती हैं.

लेकिन शायद कोई नही जनता होगा कि ये डिबेट में ऐसी अभद्र भाषा का प्रयोग करती हैं कि कोई भी सभ्य आदमी एक औरत के मुंह से तो कम से कम ये सब सुनना पसंद नही करेगा.

अंजना के इन्ही कारनामों का साबुत देता इन दिनों एक वीडियो सामने आया हैं जिसमें वो आशीष खेतान के साथ लाइव डेबिट शो में पत्रकारिता की सारी गरिमा तार-तार करती दिख रही है.

डिबेट के दौरान अंजना ने नेता को दी गालियाँ

जानकारी के लिए बता दें कि अंजना ने लाइव डिबेट के दौरान आप नेता आशीष खेतान से सवाल किया कि,

‘केजरीवाल ने कहा है कि वो एक अराजकतावादी है, ये सवाल उनके देशप्रेम के लिए है’

इसका जवाब देते हुए आशीष कहते हैं कि,

‘महात्मा गाँधी ने भी खुद को अराजकतावादी कहा है’

आपको लग रहा होगा कि इसमें आशीष ने कुछ गलत क्या कहा लेकिन शायद किसी को ये बात ग़लत लगे न लगे ये बात अंजना को इस कदर ग़लत लग गई कि उनके अंदर की गालीबाज नारी जाग गई और वो अपने गरिमा का सारा लिहाज छोडकर गाली-गलोच करने लगी.

अंजना ने आशीष से कहा कि

“आपकी औकत्त नहीं है इस चैनल कि दहलीज पे खड़े होने की,”

एक सम्मानीय व्यक्ति खासतौर पर जनता के प्रतिनिधि के लिए ऐसे शब्दों का प्रयोग कतई स्वीकार नहीं है और वो भी लाइव शो हो तब तो बिलकुल भी नहीं.

कौन है अंजना?

अंजना कश्यप भारतीय पत्रकार के उन नामों में से एक हैं जो अपनी मोदी भक्ति के लिए जानी जाती है.

भले ही ये आजतक चैनल के लिए काम करती हैं लेकिन इनके आजतक पर रोज आने वाले डिबेट शो ‘हल्ला बोल’ और एक जनता आधारित चुनावी कार्यक्रम ‘राजतिलक’ और ‘दिल्ली के दिल में क्या है’ जैसे शों में इसकी पत्रकारिता कम और मोदी सरकार की तरफदारी ज्यादा दिखाई देती है.

देखिये अंजना का आशीष को गाली देता वीडियो:-

देखिये वीडियो:-


शेयर करें