हिन्दुस्तानी ने दुबई में बैठकर महिला को कहा “रंडी”, फिर आंगे का नज़ारा तो पढने लायक है….

शेयर करें

आज सोशल मीडिया जहां एक बहुत बड़ा प्लैटफॉर्म बन गया है, वहीं इसे इस्तेमाल करने वाले लोग भी इसकी मदद से तरह तरह के कारनामे करने लगे हैं।

सोशल मीडिया के माध्यम से लोग अपने दोस्तों और करीबी लोगों के साथ कॉनटैक्ट में रहना और उनके साथ अपने कुछ अपडेट्स शेयर करने के लिए इस्तेमाल करते हैं।

सोशल मीडिया का बढ़ता चलन

लेकिन हाल से कुछ सालों को देखा जाए तो सोशल मीडिया से जुड़ी ऐसे कई हैरान कर देने वाले मामले सामने आये हैं कि अब सोशल मीडिया दो धारी तलवार बन गया है।

जिसका इस्तेमाल सही से किया जाए तो अच्छा नहीं तो यह आपके लिए ही मुसीबत खड़ी कर सकता है।

कुछ समय से ही सोशल मीडिया पर यौन उत्पीड़न के मामले भी बढ़ गए हैं। देखा जाए तो यहां यौन शोषण के मामले से जुड़े संदेश और पोस्ट का यहां पर ज्यादा देखे जा रहे हैं।

यह तरीका खासतौर से विंगर्स लोगों द्वारा अपनाया जा रहा है जो कि असल में महिलाओं के विरोध में इस्तेमाल किया जा रहा है।

दुबई के रहने वाले ने किया अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल

एक भारतीय मूल का एक नागरिक जो कि सयुंक्त अरब अमीरात में काम करता था, उसे उसकी नौकरी से निकाल दिया गया। क्योंकि उसका एक पोस्ट जो कि यौन शोषण से जुड़ा हुआ था सोशल मीडिया पर राना अयुब के लिए पोस्ट किया।

इस तरह के मामले में आरोपी को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया जाना और उसे सख्त सजा देने के साथ ही यौन उत्पीड़न के मामले में जेल की पीछे भेजना चाहिए।

इस तरह की भाषा इस्तेमाल करने वालों में ऐसे लोग भी शामिल हैं जिन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद फोलो करते हैं। ये लोग दूसरों के खिलाफ ट्विटर पर यौन अपनमान शब्दों का इस्तेमाल करते हैं।

इसके बाद भी पीएम मोदी ने इस शख्स को अनफोलो नहीं किया। इस तरह के मामलों के कई उदाहरण हमें देखने को मिल जाएंगे। राना अयुब के लिए अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करने वाले शख्स का फेसबुक पेज…

गालियों वाला मेसेज ये रहा

बालाचंद्रन ने दुबई में अल्फा पेंट्स की कंपनी साल 2015 में जॉइन की थी। वह इस कंपनी में बतौर कस्टमर सर्विस एम्प्लॉय काम करता था।

अयुब द्वारा इस पोस्ट का स्क्रीन शॉर्ट 6 अप्रैल में शेयर किया गया था। जिसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने इस मामले को 7 अप्रैल को कंपनी मैनेजमेंट तक पहुंचा दिया था।


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े