असीफा बलात्कार केस के बाद 19 साल की लड़की ने बनायी- "रेप रोको अंडरवियर"... पढ़े पूरी खबर - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

असीफा बलात्कार केस के बाद 19 साल की लड़की ने बनायी- “रेप रोको अंडरवियर”… पढ़े पूरी खबर

केंद्र की बीजेपी सरकार और प्रधानमंत्री मोदी महिला सुरक्षा को लेकर भले ही मंच से कितने भी दावे करते रहे लेकिन देश में आए दिन रेप, गैंगरेप, महिलों के साथ यौन शोषण की खबरे सामने आती ही रहती हैं.

महिलाओं के साथ रेप की घटनाएँ नही हो रही कम

देशभर में रेप के बढ़ते मामले महिलाओं के लिए आज सबसे बड़ी समस्या बन गई है.

करीब 5 साल पहले 16 दिसंबर 2012 की वो मनहूस रात शायद ही कोई भुला होगा जब राजधानी दिल्ली में देश की एक बेटी निर्भया के साथ पांच दरिंदों ने चलती बस में दरिंदगी की सारी हदें पार कर दी थी.

यूँ तो निर्भया कांड को करीब पांच साल गुजर चुके हैं, लेकिन, देश में आज भी रोज ऐसी सैकड़ों निर्भया है जो दरिदों की दरिंदगी का शिकार बनती है.

हाल ही का कठुआ और उन्नाव मामला भी उसका उदाहरण भर है.

देशभर की महिलाओं को रेप से बचाएगी ये 19 साल की लड़की

महिलाओं के खिलाफ होने वाले रेप, गैंगरेप, यौन शोषण जैसे मामले दिन-पर-दिन कम होने की बजाय बढ़ते ही जा रहे हैं, जिसकी रोकथाम के लिए खुद सरकारे भी निकम्मी साबित हो रही है.

लेकिन, अब इस गंभीर समस्या को देखते हुए और इसे रोकने के लिए फर्रुखाबाद की एक लड़की ने कुछ बेहद हैरतअंगेज कर दिखाया है.

जी हाँ बता दें कि फर्रुखाबाद की रहने वाली 19 साल की सीनू इन दिनों सोशल मीडिया पर चर्चा का केन्द्र बनी हुई है क्योंकि उसने एक ऐसी पेंटी का निर्माण किया हैं, जो महिलाओं को रेप जैसी घटनाओं से बचा सकती है.

इस मासूम सी लड़की ने वो काम करके दिखाया है जिसे करने में हमारे नेता और पुलिस भी नाकाम रही है.

कई टेक्नोलॉजी उपकरणों से लेस हैं ये ख़ास पेंटी

विशेषज्ञों का खुद दावा हैं कि सोनू की ये रेप प्रूफ पैंटी रेप जैसी घटनाओं को रोकने में काफी कारगर साबित होने वाली है.

बता दें कि सोनू द्वारा बनाई गई यह ख़ास पैंटी नई इलेक्ट्रॉनिक तकनीक से लैस है, जिसमें स्मार्टलॉक लगा है.

जिसे सिर्फ और सिर्फ पासवर्ड से ही खोला जा सकता है.

इसके अलावा सुरक्षा को और पुख्ता करने के लिए सोनू ने इसमें जगह की सही जानकारी बताने हेतु GPRS सिस्टम भी लगाया है.

हैरानी वाली बात हैं कि ये ख़ास पैंटी सबूत के तौर पर घटनास्थल की सारी बातचीत रिकॉर्ड करने के लिए रिकॉर्डर से भी लैस है.

एक रेप की घटना ने दिया इस ख़ास पेंटी बनाने का आईडिया

साफ़ हैं कि इस 19 साल की बच्ची ने इतनी कम उम्र में एक ऐसी पैंटी का निर्माण कर दिया हैं जिसमें वो सारी सुविधाएं हैं जो किसी महिला या लड़की की इज्जत की रक्षा करने के लिए काफी हद तक सक्षम है.

केंद्रीय बाल एवं महिला विकास मंत्री मेनका गांधी ने भी सीनू की इस उपलब्धि पर उसका मनोबल बढाते हुए उसकी जमकर तारीफ की और उसे शुभकामनाएं भी दी है.

जब मीडिया ने सीनू से उनकी इस खोज के बारे में पूछा तो उसने ये बताया कि,

“उसे ऐसी पैंटी बनने का आयडिया उस वक्त आया जब उसने एक दिन पांच साल की बच्ची से रेप और फिर गला घोंटकर उसकी हत्या की खबर पढ़ी.”

निष्कर्ष

वाकई जिस देश में औसत तौर पर हर घंटे महिलाओं पर 39 अपराध होते हैं जिनमे से प्रत्येक घंटे 4 महिलाएं रेप या फिर गैंगरेप का शिकार बनती हैं. ऐसे में यूपी की बीएससी स्टूडेंट सीनू ने इस ख़ास तरह की रेप प्रूफ पैंटी बनाकर एक गंभीर समस्या को काफी हद तक कम करने की राय में कार्य किया है.

गौरतलब हैं कि सोनू ने इस पेंटी को ऐसे कपड़ें से बनाया है, जिसे चाकू या किसी भी धारदार हथियार से न तो काटा जा सकता और न ही जलाया जा सकता है.

Related Articles

Close