शेयर करें

आजकल भले ही देश में दिखाई जा रही खबरें अलग मुद्दों पर देश में बढ़ रहे अपराधों को लेकर ज्यादा है, लेकिन इन खबरों से पहले देश में सबसे बड़ा मुद्दा नीरव मोदी द्वारा किया गया बैंक घोटाला था। जब पंजाब नेशनल बैंक से 11 हजार करोड़ रुपये का घोटाला कर नीरव मोदी देश से फरार हो गए थे।

जब नीरव मोदी का बैंक घोटाला आया था सामने

नीरव मोदी का यह घोटाला हर मीडिया व अखबार ने काफी बढ़ चढ़कर दिखाया। इस घोटाले के लिए देश की सरकार व पीएम मोदी को भी काफी गालियां दी गई थी।

इस मामले ने जितना भारत ने तूल पकड़ी थी, उतना ही लोगों ने आरोपी मोदी के खिलाफ जल्द से जल्द सख्त कार्रवाई करने की भी बात कही थी।

वहीं हाल ही में आरोपी नीरव मोदी को लेकर एक खबर आई थी। खबर के मुताबिक बताया जा रहा था कि नीरव मोदी को हांगकांग में गिरफ्तार कर लिया गया है।

नीरव मोदी के हांगकांग में पकड़ने जाने की खबर का सच

सूत्रों के हवाले से आई इस खबर पर कहा जा रहा था कि चीन ने इस मामले पर बोलने से मना कर दिया है। साथ ही कहा गया कि हांगकांग ही इस बारे में अब अंतिम फैसला लेगा कि आखिर मोदी को पकड़ा जाए या नहीं।

जहां भारतीय सरकार नीरव मोदी को पकड़ने की कोशिश में लगी हुई है वहीं भगौड़ा नीरव मोदी विदेशों में भागता फिर रहा है।

इस घोटाले के सामने आने के बाद इंटरपोल से लेकर हर इनवेस्टिगेशन एजेंसी मोदी की तलाश में लगी हुई है।

ऐसे में इस तरह की खबरों का सामने आना काफी सवाल खड़े करता है।

आपको बता दें कि नीरव मोदी की गिरफ्तारी को लेकर चलाई जा रही यह खबर सरासर गलत है।

अब भी भारत सरकार की पहुंच से फरार है घोटालेबाज मोदी

यह भी पूरी तरह से साफ है कि नीरव मोदी जो कि भारतीय बैंक के साथ हजारों करोड़ का घोटाला कर के विदेश भाग गया है वह अभी भी फरार ही चल रहा है।

नीरव मोदी को न ही हांगकांग से पकड़ा गया है और न ही चीनी सरकार ने इस पर किसी तरह का बयान दिया है।

जाहिर सी बात है कि यह खबर केवल एक झूठ है। नीरव मोदी को पकड़ने का श्रेय जहां मोदी सरकार को देने की कोशिश की जा रही हो लेकिन हम यहां साफ कर दे कि यह खबर पूरी तरह से फेक है।

मीडिया संस्थानों द्वारा चलाई जाने वाली फेक न्यूज से रहे सतर्क

वहीं सवाल आता है जब मोदी के पकड़ने जाने की खबर इतनी बड़ी थी, फिर इसे अन्य मीडिया द्वारा क्यों नहीं दिखाया गया।

इस बात पर भी सवाल का बेतुका जबाव देते हुए यह कहा गया था कि इस मोदी के पकड़ने जाने की पुष्टि पूरी तरह से साफ नहीं हुई थी इस वजह से ही बाकी किसी भी मीडिया द्वारा इस खबर को नहीं दिखाया गया।

 

लेकिन सच यही है कि मोदी अभी भी भारत सरकार की पकड़ से फरार है। मोदी की जानकारी किसी भी इनवेस्टिगेशन टीम के जरीये सामने नहीं आई है।

आपको सवाधान रहने के लिए बता दें कि इस तरह की भ्रामक खबरें बहुत चलाई जाती हैं, जिस पर आप सभी को सतर्क रहने की जरुरत है।

साथ ही किसी विश्वसनीय संस्थान द्वारा ही खबरों की पुष्टि करें तो ज्यादा बेहतर है।

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

शेयर करें