मुसलमानों को धमकी देने वाले श्री श्री रविशंकर के खिलाफ हैदराबाद में FIR, तो लखनऊ से भी आईं -यह बुरी खबर

शेयर करें

आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर अक्सर अपने मुस्लिम विरोधी बयानों को लेकर सुर्ख़ियों में छाए रहते है.

अयोध्या विवाद को लेकर दिए बयान ने बढ़ाई रविशंकर की मुश्किलें

अभी हाल ही में उन्होंने अयोध्या विवाद को कोर्ट के बाहर मामले को सुलझाने का प्रयास करते हुए कुछ ऐसा बयान दे दिया जिसके चलते अब उनकी मुश्किलें बढ़ गई है.

अयोध्या मामले पर दिया था सीरिया वाला बयान 

दरअसल, श्री रविशंकर ने पांच मार्च को अयोध्या मामले पर बोलते हुए मीडिया के सामने बयान देते हुए कहा था कि..

“अगर हिन्दुस्तान का मुसलमान अयोध्या में विवादित भूमि पर स्वेच्छा से मंदिर नहीं बनने देगा तो हिन्दुस्तान को भी सीरिया बना दिया जाएगा.”

विवादित बयान के बाद दर्ज हुई FIR

श्री रविशंकर के इसी विवादित बयान के बाद अब उनके खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के मामले में हाल ही में हैदराबाद में FIR दर्ज कराई गई है.

पहले भी कई लोगों ने पुलिस में की थी शिकायत

इसके अलावा बता दें कि उत्तर प्रदेश के लखनऊ में भी उनके खिलाफ इसी बयान को लेकर पुलिस में शिकायत की गई है. इस FIR पर जब मीडिया ने हैदराबाद के मोघलपुरा थाने के निरीक्षक आर देवेंद्र से पुछा तो उन्होंने बताया कि..

“अध्यात्मिक गुरु के खिलाफ शहर के संगठन दरगाह जिहाद-ओ- शहादत (डीजेएस) के सचिव सलाहुद्दीन अफान ने शिकायत दर्ज कराई है.”

मुस्लिम भावनाओं को ठेस पहुंचाने का लगा है आरोप

बता दें कि अपनी शिकायत में सचिव अफान ने श्री रविशंकर पर आरोप लगाते हुए कहा है कि..

“मुस्लिमों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के इरादे से रविशंकर ने अयोध्या विवाद पर मुस्लिम समुदाय के खिलाफ ऐसा विवादित भड़काऊ बयान दिया है.”

AIMIM ने भी दर्ज कराई थी शिकायत

इसके साथ ही अगर याद हो बीते गुरुवार लखनऊ में भी श्री रविशंकर के सीरिया वाले बयान को लेकर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के एक नेता ने पुलिस में शिकायत की थी.

सीरिया वाले बयान से श्री ने दी मुसलमानों को धमकी

जानकारी के अनुसार एआईएमआईएम के जिलाध्यक्ष तौहीद सिद्दीकी नजमी की ओर से बाजार खाला के क्षेत्राधिकारी को संबोधित अपनी शिकायत में ये कहा गया था कि..

“श्री ने हिन्दुस्तान को सीरिया बनाने के बयान के जरिए हिन्दुस्तान के मुसलमानों को खुली धमकी दी है.”

रविशंकर पर होगी कठोर कार्यवाही 

जिसके लिए शिकायतकर्ता सिद्दीकी ने क्षेत्राधिकारी से आग्रह किया कि उनकी रिपोर्ट दर्ज करते हुए रविशंकर पर कठोर कानूनी कार्रवाई की जाए. इस दौरान सिद्दीकी ने मीडिया को बताया कि..

“पुलिस ने एफआईआर नहीं दर्ज की है. और अगर अगले 48 घंटे के भीतर हमारी शिकायत पर पुलिस ने एफआईआर नहीं दर्ज की तो हमारे कार्यकर्ता लखनऊ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) आवास का घेराव करेंगे.”

निष्कर्ष

गौरतलब है कि धर्म के ठेकेदार बने बैठे श्री रविशंकर जैसे धर्मगुरु जब इस तरह के विवादित एवं शर्मनाक बयान देकर एक विशेष समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाते हैं तो उसका असर अक्सर बेहद भयावह होता है.


शेयर करें