ये खिलाडी कभी सड़कों से कचरा उठाने पर था मजबूर पर आज है दुनिया के सबसे अमीर खिलाडियों में से एक

आज क्रिकेट के दीवाने आपको हर कोने में मिल जाएंगे. जो क्रिकेट को खेल की तरह नही बल्कि भगवान की तरह पूजते हैं.

बीते सालों में क्रिकेट जगत ने भी बहुत तरक्की की हैं शायद इसी के चलते आज आपको हर घर में इसका कम से कम एक दीवाना तो जरुर मिल ही जाएगा.

बदलते वक्त के साथ क्रिकेट की लोकप्रियता भी बढ़ी

अगर आज के जमाने की बात करे तो आज वो लोग भी क्रिकेट में दिलचस्पी लेते दिखाई देते हैं जिन्हें पहले क्रिकेट में जरा भी इंटरेस्ट नहीं होता था.

इसके पीछे भी क्रिकेट की तरक्की और खिलाड़ियों की कड़ी मेहनत ही हैं तभी तो अब ये खेल दुनियाभर में सामान्य से बहुत ज्यादा बदल चुका है.

क्रिकेट खिलाड़ियों को भी आज हर जगह सेलेब्रिटी का दर्ज़ा दिया जाता है.

जैसे करोड़ों फैंस बॉलीवुड या हॉलीवुड अभिनेताओं और अभिनेत्रियों को फॉलो करते हैं ठीक उसी तरह अब लोग क्रिकेट के खिलाड़ियों को भी फॉलो करने लगे हैं.

क्रिकेट खिलाड़ी की दिलचस्प कहानी नही सुनी होगी

यही वजह है कि आज लोग इनके बारे में भी जानने के लिए बहुत ज्यादा उत्सुक रहते हैं.

वैसे तो ऐसे आपको बहुत से खिलाड़ी आज मिल जाएंगे जो अक्सर सुर्ख़ियों में बने रहते हैं.

क्रिकेट जगत में भी ऐसे बहुत से नाम हैं जो अपनी कमाल की मेहनत के बाद अपने जीवन में ऐसा एक बड़ा मुकाम हासिल करने में कामियाब रहे हो जिसके चलते उन्हें आज दुनिया पहचानती है.

लेकिन आज हम आपको जिस खिलाड़ी के बारे में एक बेहद दिलचस्प बात बताने जा रहे हैं उन्होंने बहुत सी विपत्तियों का सामना कर अपने लक्ष्य को प्राप्त किया है.

जी हाँ हम बात कर रहे हैं वेस्ट इन्डीस के सबसे सफल खिलाड़ी क्रिस गेल की.

क्रिस गेल की संघर्ष की कहानी सुनकर आ जायेगा रोना

इस बात में कोई दौराय नहीं हैं कि वेस्ट इन्डीस के सबसे लोकप्रिय और जाने-माने खिलाडी और विश्वभर में सिक्स मशीन कहे जाने वाले क्रिस गेल दुनिया के सबसे सफ़ल खिलाड़ियों में से एक है.

इनका जन्म  21 सितम्बर 1979 को किंग्स्टन जमेगा में हुआ था.

लेकिन जैसे हम अक्सर किसी का चहेरा देखकर उसकी ख़ुशी का तो अंदाजा लगा ही लेते हे मगर उसके अन्दर की मेहनत और त्याग की ओर हमारा ध्यान कभी नहीं जाता है,

ठीक उसी तरह क्रिस गेल के भी हँसते-मुस्कुराते चेहरे को देख बहुत ही कम लोग ये बात जानते होंगे कि क्रिस गेल ने भी अपनी लाइफ में बहुत ही बुरे दिन देखे हैं.

बचपन में कचरा उठाते थे क्रिस गेल 

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो शुरूआती दिनों में क्रिस गेल और उनका परिवार एक टीन के बने कच्चे घर में रहता था.

घर की आर्थिक स्तिथि बेहद खराब होने के चलते उन्हें अपनी पढ़ाई भी बीच में ही छोड़नी पड़ी थी.

चुकी उनके पिताजी के पास फीस भरने के पैसे नहीं थे इसलिए बचपन में क्रिस गेल पढ़ाई छोड़ अपना और अपने परिवार का पेट भरने के लिए जगह-जगह प्लास्टिक की बोतल इकठ्ठा किया करते थे.

पेट भरने के लिए करते थे चोरी

इस बारे में जानकारी खुद क्रिस गेल ने एक इंटरव्यू में देते हुए बताया था कि,

” उनको कभी कबार चोरी भी करनी पड़ती थी क्योंकि उनके पास खाने के लिए भी पेसे नहीं होते थे.”

ये वो दौर था जब क्रिस गेल के बारे में कोई भी नहीं जानता था लेकिन कहते हैं न किस्मत चमकते देर नहीं लगती ऐसा ही कुछ उनके साथ भी हुआ.

उन्हें शायद बचपन में नही पता था कि एक दिन किस्मत उनपर इस कदर महरबान होंगी कि सारी दुनिया उन्हें जानेगी और वो दुनिया के सबसे अमीर खिलाडियों में से एक बन जाएंगे.

निष्कर्ष

भले ही आज लोग क्रिस गेल को एक उम्दा खिलाड़ी के तौर पर जानते हो लेकिन इस खिलाड़ी ने इस मुकाम तक पहुचने में किस कदर मेहनत की हैं ये बात शायद या तो वो खुद जानते हैं या फिर उनका परिवार.

story source: http://www.achhikhabar.in/kabhi-sadko-par-kachra-uthata/

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

Leesha Senior Reporter

यह खबर वायरल इन इंडिया के वरिष्ट पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है| खबर में कोई त्रुटी होने पर हमें मेल के द्वारा संपर्क करें- [email protected] आप हमें इस फॉर्म से भी संपर्क कर सकते हैं, 2 घंटे में रिप्लाई दिया जायेगा |
Close