कठुआ कांडः पीड़िता को इंसाफ दिलाएगा केरल का ये शख्स, जानिए कैसे..?

अगर कुछ साल पहले की बात करे तो रेप जैसे जधन्य कृत पर पहले समाज चुप्पी साध लेता था लेकिन अब ऐसी घटनाओ के प्रति न केवल लोगों की प्रतिक्रिया खुलकर सामने आती हैं बल्कि लोगों में ख़ासा आक्रोश भी देखने को मिलता है.

कठुआ काण्ड से लोगों में हैं आक्रोश

पहले देश की बेटी निर्भया और अब जम्मू के कठुआ जिले की 8 साल की मासूम बच्ची आसिफा के साथ हुई दरिंदगी ने पूरे देश को अंदर तक झकझोर कर रख दिया है.

ऐसे में उस मासूम बच्ची को न्याय दिलाने के लिए पूरा देश संसद से लेकर सड़क पर आक्रोश व्यक्त करते हुए इन्साफ की मांग कर रहा है.

फिल्म जगत से भी इस शर्मनाक घटना के विरोध में मुहीम छिड गई है. साथ ही पूरा देश सोशल मीडिया के जरिए अपना गुस्सा जाहिर कर रहा हैं और पीड़ित बच्ची को इंसाफ दिलाने की एकसुर में गुहार लगा रहा हैं.

केरल का ये शख्स दिलाएगा आसिफा को इन्साफ

अब इसी कड़ी में दरिंदगी का शिकार बनी मासूम बच्ची को इंसाफ दिलाने के लिए केरल के एक युवक ने बेहद अनोखी पहल शुरू करते हुए हर किसी को हैरान कर दिया है.

दरअसल दूसरे समुदाय से ताल्लुक रखने वाले इस शख्स ने पीड़ित बच्ची के दर्द को समझते हुए और उसके परिवार के प्रति सहानभूति जताते हुए अपनी नवजात बेटी का नाम उसके नाम पर रखकर एक मिसाल पेश की है.

जानिए पूरा मामला?

खबरों की माने तो केरल के रहने वाले रजित राम नाम के एक युवक ने सोशल मीडिया के जरिए कठुआ काण्ड की निंदा करते हुए इस बात की जानकारी दी है कि उसने अपनी दो दिन की नवजात बच्ची का नाम कठुआ कांड की शिकार बनी 8 साल की बच्ची आसिफा के नाम पर रखा है.

लोगों को रजित राम द्वारा उठाए गये इस कदम की जानकारी जैसे ही मिली वैसे ही हर तरफ उसकी तारीफ़ होने लगी.

लोग उसके इस प्रशंसनीय कदम को खूब सराह रहे हैं.

रजित राम के इस फैसलें पर लोगों को कहना है कि,

“रजित के इस कदम से समाज में एक अच्छा मैसेज जाएगा.”

शायद इसी कारण सोशल मीडिया पर इस मामले में किए गए उसके पोस्ट को अब तक लाखों लोग पसंद और शेयर कर चुके है.

गैंगरेप पीड़िता के नाम पर रखा अपनी नवजात बेटी का नाम 

गौरतलब है कि, जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले से जुड़ा गैंगरेप का ये मामला इसी साल जनवरी का है,

जिसमें पुलिस द्वारा दर्ज चार्जशीट से इस घटना से सम्बंधित कई हैरान करने वाले तथ्य सामने आएं हैं.

पुलिस द्वारा दर्ज चार्जशीट की माने तो, जनवरी में कठुआ की रहने वाली आठ साल की मासूम को अगवा कर, हफ्ते भर तक उसे मंदिर में बंधक बनाकर रखा गया.

जिस दौरान पीड़िता को नलीशा पदार्थ देकर बार-बार उससे साथ गैंगरेप जैसे जधन्य कृत को अंजाम दिया और बाद में उसे मार डाला.

इस मामले में पुलिस ने आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

निष्कर्ष

एक तरह जहाँ पूरा देश मासूम से गैंगरेप की घटना पर सरकार से इन्साफ की मांग करते हुए आक्रोश व्यक्त कर रहा है तो वहीं केरल के इस शख्स द्वारा अपनी बेटी का नाम पीड़िता बच्ची आसिफा के नाम पर रखते हुए कमाल की मिसाल पेश की है.

story source: https://www.newstrend.news/141625/kathua-rape-case-kerela-man-take-moral-initiative/

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

Leesha Senior Reporter

यह खबर वायरल इन इंडिया के वरिष्ट पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है| खबर में कोई त्रुटी होने पर हमें मेल के द्वारा संपर्क करें- [email protected] आप हमें इस फॉर्म से भी संपर्क कर सकते हैं, 2 घंटे में रिप्लाई दिया जायेगा |
Close