झारखण्ड से 2 हिन्दू युवा बीफ बेचते पकडे गये जानिये क्या हुआ आगे?

By:- Viral in India Team on

बीफ और गौ हत्या के मामले में अब तक जिन लोगो को निशाना बनाया गया वो अधिकतर मुस्लिम है जैसे, अख्लाज़, पेहलू खान और भी ना जाने कितने मगर झारखंड से जो मामला सामने आया है उससे ये साबित होता है की इस धंधे में मुख्य तौर पर किसी एक कौम का हाथ नहीं है या फिर ये एक कम्युनल मुद्दा नही है जिसे हमेशा एक ही चश्मे से देखा जाए |

क्या हुआ झारखण्ड में ?

झारखण्ड पुलिस ने बीफ बेचते हुए दो जवान युवक को गिरफ्तार किया हैं । जिसमे से एक का नाम राम और दूसरे का नाम राजू हैं । इनके पास से 50 किलो मीट, तंगी, छुरा और 4500 सो रुपए नागत भी मिले हैं ।

पुलिस की जानकारी के द्वारा, राजू B.A. फाइनल ईयर का स्टूडेंट हैं और राम ITI का स्टूडेंट हैं । राम और राजू के मुताबिक उन दोनों के घर में कमाने वाला कोई नहीं हैं और उन्होंने ऐसा केवल अपने कॉलेज की फीस भरने के लिए किया था । राम और राजू के पास कॉलेज की फीस भरने के लिए पैसे नहीं थे तो दोनों में जानवरों का मीट बेचने शुरू कर दिया ताकि वह दोनों अपने कॉलेज की फीस जमा कर सके ।

उनका कहना हैं की वह दोनों मीट 150 रुपए किलो के हिसाब से बेचते थे और उन्होंने काफी समय पहले, उन्होंने रिपोर्ट करवाई थी की कुछ लोग संडे के दिन बीफ बेचते हैं ।

नरेंद्र मोदी के एक मंत्री ने कहाँ बीफ खाना सभी का अधिकार

हाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक मंत्री ने बीफ मुद्दे पर अपनी ही पार्टी के खिलाफ बयान दे दिया है| जिसमे पीएम मोदी के सामाजिक एवं न्याय अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास अठावले ने कहा है कि सभी को बीफ खाने का अधिकार है. रामदास अठावले ने यह बयान कथित तौर पर बीफ रखने के आरोप में नागपुर में हुई मारपीट की घटना के बाद दिया है |

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया यानी RPI अध्यक्ष रामदास अठावले ने अपना बयान देते हुए कहा है कि सभी को बीफ खाने का अधिकार है, आपको पुलिस के पास जाने का अधिकार है कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं | उन्होंने कहा कि गोरक्षा के नाम पर किसी को हानि पहुँचाना या मारपीट करना गलत है, ऐसे लोगो को सजा होना चाहिए|

--- ये खबर वरिष्ठ पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है वायरल इन इंडिया न्यूज़ पोर्टल के लिए

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट मैं छोड़े