भारतीय कपल ने शुरू की मलेशिया की पहली इस्लामिक एयरलाइन

आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन मलेशिया में एक हिन्दू कपल ने उस देश की पहली इस्लामिक एयरलाइन शुरू की जिसमे सब कुछ इस्लाम के मुताबिक रहेगा | पिछले कई लेखो से हम मलेशिया की मुस्लिम आबादी का ज़िर्क आप लोगो से करते रहे है और इस एयरलाइन के शुरू करने का उद्देश्य भी यही था | इस एयरलाइन का नाम है रयानी जिसके फाउंडर है रवि अलेगेंद्रन और उनकी पत्नी कार्तियानी गोविंदन |

फ्लाइट में एयर होस्टेस का ड्रेस कोड भी हिजाब युक्त है जो की मुस्लिम महिलाओं की वेशभूषा के मुताबिक ही है | इस फ्लाइट में यात्रियों को शराब और पोर्क नही दिया जाता क्योकि ये इस्लाम के विरुद्ध है | फ्लाइट के उड़ान भरने से पहले अल्लाह की प्राथर्ना का नियम भी रखा गया है |

रयानी एयरलाइन शुरू करने का कारण?

रयानी नाम रवि अलेगेंद्रन और उनकी पत्नी कार्तियानी गोविंदन के नाम से मिलकर बना है | इसके फाउंडरस का कहना है की वो चाहते है की इस फ्लाइट में सभी धर्मो को मानने वाले लोग यात्रा करे लेकिन मुख्य तौर पर मुस्लिम यात्री इनका मेन मार्केट है |

“यह अलगाव का मामला नहीं है हमारे पास एक बाजार है और किसी को भी एक मामूली और अल्कोहल मुक्त वातावरण में यात्रा करने में आनंद आएगा ” रवि ने मलय मेल को आगे बताया शरिया के अनुरूप उद्योग करने में भारी उन्नति है |

वरिष्ठ सहायक निदेशक जाफर ज़म्हारी का कहना है की मुस्लिम दल के सदस्यों को अपने सिर को कवर करने के लिए बाध्य किया जाएगा और चालक दल के गैर-मुस्लिम सदस्यों को शालीनता के अनुसार उचित तरीके से तैयार होना होगा” जाफर आगे कहते है एयरलाइन यात्रियों की सुरक्षा के लिए हर उड़ान से पहले इस्लामी प्रार्थना की जाएगी और फ्लाइट में शराब और पोर्क पूरी तरह से प्रतिबंधित है”

मलेशिया की कई उड़ानों के साथ हुए हादसों के पीछे था अल्लाह का कोई संदेश

मलेशिया एक ऐसा देश है जहा 30 मिलियन लोगो की आबादी में 60 प्रितशत मुस्लिम आबादी है | हाल ही में मलेशिया की दो फ्लाइट्स के साथ गहरा हादसा हुआ था, पहला फ्लाइट- 370 जो पिछले कुछ सालो से गायब है | दूसरा, फ्लाइट 17 के साथ हुआ हादसा | इस नयी एयरलाइन के बारे में ज्यादा जानने के लिए विडियो देखना न भूले!

देखिये वीडियो:-

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट मैं छोड़े

पोपुलर खबरें