आगरा के इस मदरसे में मुसलमान बच्चों के साथ पढ़ते हैं हिन्दू बच्चे, बढ़ रही हिन्दू बच्चो की तादाद - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

आगरा के इस मदरसे में मुसलमान बच्चों के साथ पढ़ते हैं हिन्दू बच्चे, बढ़ रही हिन्दू बच्चो की तादाद

अभी तक आप मदरसों के बारे में यही सुनते आये है की यहा मुख्य रूप से इस्लाम की तालीम ही दी जाती है | लेकिन अब हम आपको उत्तर प्रदेश के एक ऐसे मदरसे के बारे में बताने जा रहे है जहाँ अंग्रेजी, विज्ञान और गणित जैसे विषय भी पढाये जाते है | इससे भी ज्यादा ख़ास बात एक और है जो इसे चर्चा का विषय बनाती है | वो है यहा पढने वाले बच्चे और पढ़ने वाला अध्यापक |

हिंदी सियासत की खबर के उत्तर प्रदेश के एक इलाके में एक ऐसा मदरसा पाया गया है जो आजादी के दौर में बना | लेकिन आज यहा पढने वाले हिन्दू बच्चे भी है जो अरबी और उर्दू जैसे विषय सीखते है |

योगी सरकार के आदेश से पहले ही हो चूका है इस मदरसे का आधुनिकरण

हाल ही में योगी सरकार ने मदरसों के आधुनिक शिक्षा से जोड़ने का कदम उठाया था लेकिन यह एक ऐसा मदरसा है जहा आज से कुछ साल पहले ही आधुनिक शिक्षा शुरू की जा चुकी थी | आगरा के इस मदरसे का नाम मोइन उल इस्लाम है जो दरौथा नाम की जगह में स्थित है |

इस मदरसे में उर्दू फारसी के साथ साथ मैथ्स साइंस और अंग्रेजी भी पढाई जाती है | यहाँ जो टीचर पढ़ने आता है वो हिन्दू है और पिछले दस साल से वो यहा अपनी सेवा दे रहा है | 1958 में बने इस मदरसे में आज 202 हिन्दू बच्चे है और 248 मुस्लिम बच्चे है | हिंदी के अलावा, मुस्लिम बच्चे यहाँ उर्दू और अरबी भाषा का भी ज्ञान प्राप्त कर रहे है | सिर्फ इतना ही नही, इस मदरसे में कंप्यूटर साइंस की शिक्षा भी दी जाती है

क्या कहते है यहाँ के हिन्दू बच्चे इस मदरसे के बारे में?

चौथी क्लास में पढ़ने वाली दीप्ति ने बताया कि मदरसा उनके घर के करीब है और उन्होंने अपने पिता से यहां पढ़ने की इजाजत मांगी। दीप्ति की इच्छा के मुताबिक उनके पिता ने बेटी का दाखिला यहां करा दिया और पिछले दो साल से वो यहां आम विषयों के अलावा उर्दू और अरबी भी सीख रही है।

मदरसे के प्रमुख मौलाना उजैर आलम ने बताया कि कोई भी धर्म जाति के आधार पर भेदभाव करना नहीं सिखाता। यह एक ऐसी जगह है जहां सभी धर्मों के बच्चे एक साथ बैठक शिक्षा लेकर एकता और सौहार्द की मिसाल पेश कर रहे हैं।

 

देखिये वीडियो:-

source;https://hindi.siasat.com/news/video-903896/

Related Articles

Close