शेयर करें
  • 40.1K
    Shares

साल 2019 राजनीति और फिल्मी जगत के लिए काफी अहम साबित होने वाला है। आपको बता दें कि जहां इस साल से देश में आम चुनाव होने वाले हैं। वहीं इसी साल राजनीतिक बैकग्राउंड को लेकर बॉलीवुड कई फिल्में रिलीज करने वाला है।

फेल हुआ मोदी सरकार का प्रोपेगेंडा

नए साल की पहली राजनीतिक पृष्ठभूमि वाली दो बॉलीवुड फिल्में 11 जनवरी को रिलीज कर दी गई है। एक है देश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह केयू के कार्यकाल पर आधारित फिल्म एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर और दूसरी है केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी द्वारा पाकिस्तान पर की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर।

बॉक्स ऑफिस पर बड़ी फ्लॉप निकली द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर

गौरतलब है कि यह दोनों ही फिल्में भारतीय जनता पार्टी का राजनीतिक एजेंडा है। जिसमें एक तरफ यूपीए को बदनाम करने की साजिश रची गई है। वहीं दूसरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कथित राष्ट्रभक्ति दिखाने की कोशिश की गई है। लेकिन आपको बता दें कि फिल्म द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर्दे पर रिलीज़ होते ही एक बड़ी फ्लॉप साबित हो चुकी है।

फिल्म के फ्लॉप होने से सदमें में आई बीजेपी

देश की जनता ने बीजेपी के इस प्रोपेगेंडा पर आधारित फिल्म को बहुत ही सलीके से नकार दिया है। असल में लोग डॉ. मनमोहन सिंह की ईमानदार छवि और राष्ट्रभक्ति से भली भाँती वाकिफ हैं। इसलिए बीजेपी की ये साजिश पूरी तरह बेकार चली गई है।

फिल्म के कलाकारों पर दर्ज हुआ केस

आपको बता दें कि हाल ही में यूट्यूब पर फिल्म द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर का ट्रेलर रिलीज किया गया था। जिसके बाद कांग्रेस ने इससे प्रोपेगेंडा के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया था। इस कड़ी में फिल्म के सभी कलाकारों पर कांग्रेस के दिग्गज नेताओं की छवि खराब करने के मामले में केस भी दर्ज किया जा चुका है।


शेयर करें
  • 40.1K
    Shares