मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 : करिश्मा कांग्रेस का

शेयर करें

देश में सत्ता का सेमीफाइनल चल रहा है. देश के पांच राज्य मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मिजोरम और तेलंगाना की 650 से भी ज्यादा विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग संपन्न हो चुकी है. अब सिर्फ मतगणना बची है, जो 11 दिसंबर को होनी है. इसके बाद सस्पेंस खत्म हो जाएगा कि किस राज्य में किस पार्टी की सरकार बनने जा रही है. अधिकांश एग्जिट पोल के नतीजों में कांग्रेस की सरकार दिखाई जा रही है.


फिलहाल चर्चा एग्जिट पोल की


विधानसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले और वोटिंग समाप्त होने के बाद एग्जिट पोल को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है. अलग अलग न्यूज चैनलों और सर्वे एजेंसियां के अपने अलग अलग आंकड़े और दावे हैं लेकिन मध्य प्रदेश में कमलनाथ का जादू काम कर गया है और कांग्रेस सरकार बनाती हुई दिख रही है. बेहद दिलचस्प है ये आंकड़ें


2. बेहद दिलचस्प है ये आंकड़ें


एबीपी न्यूज और सीएसडीएस के एग्जिट पोल के मुताबिक यहां कांग्रेस को 126 सीटें जबकि भाजपा को 94 सीटें मिलती हुई दिख रही है. सरकार बनाने के लिए मध्य प्रदेश विधानसभा का जादुई आंकड़ा 116 है.


इंडिया टूडे और एक्सिस के मुताबिक कांग्रेस को 122 और भाजपा को 102 सीटें मिल सकती है. इंडिया न्यूज और नेटा के पोल के मुताबिक मध्य प्रदेश में कांग्रेस को 112 और भाजपा को 106 सीटें मिलती हुई नजर आ रही है. ?


वहीं बात करें अन्य की तो अन्य पार्टियां और निर्दलियों के खाते में औसतन 10 सीटें जाती हुई दिख रही है. माना जा रहा है कि अगर कोई भी पार्टी कुछ अंकों से सरकार बनाने में चूक गई तो ये किंग मेकर साबित हो सकते हैं.



3. कमलनाथ को अध्यक्ष बनाना मास्टर स्ट्रोक


वैसे तो ये सिर्फ एग्जिट पोल है लेकिन अगर नतीजे भी इसी तरह के आते हैं तो निश्चित तौर पर ही जीत का सेहरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के माथे पर बंधेगा. कमलनाथ को अध्यक्ष बनाना राहुल गांधी का मास्टर स्ट्रोक साबित होगा.


शेयर करें