जवान आरिफ को मिलने वाला है ये बड़ा सम्मान, भाजपा वाले मुहं छुपाये घूम रहे हैं

हमारे देश में वीर योध्दाओं और देश के लिए अपनी कुर्बानी देने वाले जाबांजो की कमी नहीं है। इसके साथ ही भारत देश ने भी अपनी धरती पर जन्मे हर वीर योध्दा को सलाम किया है उसे वह दर्जा दिया व सम्मान दिया है जिसका वह हकदार है।

भारत धरती पर जन्में कई वीर योध्दा

भारत देश में वीर योध्दाओं की बात करें तो उसके लिए भारत का इतिहास ही ऐसे कई महान जाबांजों से भरा हुआ है कि कितनों का ही जिक्र कर लिया जाए वह भी कम ही है।

लेकिन आज के समय में हमारे देश में जब जाबांज की बात आती है तो सबसे पहले जुबान पर नाम भारतीय सेना का आता है। जो कि वाकई एक सच्चाई है।

भारतीय सेना में जवान ही कुछ ऐसे शामिल हैं जिन्होंने वाकई में भारत देश की रक्षा के लिए अपनी पूरी जिंदगी को ही समर्पति कर दिया है।

भारतीय सेना में ऐसा ही नाम है आरिफ खान

जहां भारत सरकार की ओर से कई वीर और बहादुर लोगों को पुरुस्कृित किया जाता है, तो उनमें से ही एक नाम आता है आरिफ खान का।

आरिफ भी उन जाबांजों में से एक हैं जिन्होंने भारत की रक्षा के लिए अपनी जिंदगी को कुर्बान करते हुए अपनी मौत को गले लगा लिया।

आरिफ खान झुंझुनूं जिले की जाबासर ग्राम पंचायत के हमीर खां बास के वीर बेटे हैं।

भारतीय सेना में पराक्रम प्रदर्शन दिखाने के लिए ही उन्हें शौर्य चक्र के लिए नामांकित किया गया है।

जानकारी के मुताबिक, महज 23 साल की उम्र में शौर्य चक्र से सम्मानित होने वाले वे इस क्षेत्र से आने वाले पहले जांबाज हैं।

आरिफ खान का जीवन

आरिफ का जन्म जनाब बाबू खां के घर जून 1994 में हुआ था।

माता-पिता से मिली सीख के कारण वे सिर्फ 18 साल की उम्र में ही भारतीय सेना में भर्ती हो गए थे।

ऑन ड्यूटी के दैरान उन्हें कश्मीर भेजा गया जहां उन्होंने आतंकवादियों के खिलाफ कई मिशनों में हिस्सा लिया।

आरिफ खान का आखिरी सफर

18 मार्च 2017 के दौरान सेना की ओर से लड़ते हुए आरिफ खान ने आतंकवादियों का सामना किया।

इस मुठभेड़ में आरिफ ने बहादुरी के साथ आतंकवादियों से मुकाबला किया और एक आतंकवादी को ढेर कर दिया।

उन्होंने हालात के मद्देनजर समझदारी के साथ अपने साथियों की जान भी बचाई थी।

भारतीय सरकार ने भी दिया सम्मान

भारतीय सेना ने उनका नाम शौर्य चक्र पाने वाले बहादुरों में शामिल किया है।

हमारे देश के इस बहादुर बेटे पर सभी को गर्व है।

उन्होंने देश और झुंझुनूं जिले की शान बढ़ाई है।

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

Viral in India Reporter

यह खबर वायरल इन इंडिया के वरिष्ट पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है| खबर में कोई त्रुटी होने पर हमें मेल के द्वारा संपर्क करें- [email protected]आप हमें इस फॉर्म से भी संपर्क कर सकते हैं, 2 घंटे में रिप्लाई दिया जायेगा |
Close