देश ने दिया सोनिया राहुल को आशीर्वाद, एक और राज्य में कांग्रेस के अच्छे दिन, बड़ी जीत

शेयर करें

नेशनल कांग्रेस पार्टी की कमान लंबे समय से संभाल रही सोनिया गांधी ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं व कार्यकर्ताओं की आपसी सहमति से अपने बाद पार्टी की बागडोर पार्टी के युवा नेता कहे जाने वाले राहुल गांधी के हाथों सौंप दी हैं।

गौर करने वाली बात है कि राहुल गांधी ने पार्टी का जब से अपने कंधों पर लिया वे और पार्टी दोनों ही अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। भले ही आज सत्ता पर बैठी बीजेपी की स्थिति काफी मजबूत है लेकिन अपनी मौजूदगी को राहुल गांधी ने भी साबित किया है।

नए अध्यक्ष राहुल गांधी के आने से पार्टी में अच्छे बदवाल

पार्टी की कमान राहुल गांधी के हाथों में आते ही कांग्रेस के लिए गुजरात के विधानसभा चुनाव एक अच्छी शुरुआत थी इसके बाद हाल ही में गुजरात में संपन्न हुए निकाय चुनाव में भी पार्टी ने पिछले बार के मुकाबले इस बार ज्यादा सीटों पर अपना कब्जा किया है। वहीं मौजूदा हालात में कांग्रेस खुद पर और काम कर रही है।

पार्टियों के वरिष्ठ नेता अपनी पार्टी छोड़ कांग्रेस में हो रहे शामिल

देखा जाए तो राहुल गांधी के कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष बनने के बाद से ही बीजेपी राज में जनता का तो पता नहीं लेकिन कांग्रेस के अच्छे दिन जरुर आ गए हैं। हाल ही के दिनों की राजनीति देखी जाए तो, कई पार्टियों के वरिष्ठ नेताओं ने अपनी अपनी पार्टी छोड़ कांग्रेस का हाथ थामा है।

ये भी साफ है कि इन नेताओं की अपनी पार्टी छोड़ कांग्रेस में शामिल होने की वजह पार्टी में अंसुष्ट माहौल या फिर आंतरिक विवाद है। जिससे नेताओं ने कांग्रेस में आना बेहतर समझा है।

राहुल गांधी की बढ़ती लोकप्रियता

दूसरी तरफ देखें तो इस बात को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता कि अलग अलग पार्टियों से अपना रास्ता अलग करने वाले ये नेता देशभर में राहुल गांधी की बढ़ती लोकप्रियता और लोगों में बढ़ रहा उनका विश्वास भी है। इन सबके बीच ही कांग्रेस के हाथ एक और जीत लगी है, बता दें कि मेघालय में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकंपा) के विधायक मार्टन संगमा और निर्दलीय विधायक ब्रिगेदी एन मारक ने कांग्रेस की तरफ अपना रुख मोड़ लिया है।

इन विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के साथ ही इन नेताओं ने विधानसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया है। आपको बता दें कि इन दिनों मेघालय में भी चुनावी मौसम के आसार काफी तेज होते नजर आ रहे हैं।

मेघालय में भी कांग्रेस के आए अच्छे दिन

आपको बता दें, मेघालय की विधानसभा सीटों के लिए 27 फरवरी को चुनाव होने हैं। वहीं चुनाव से ठीक पहले इन नेताओं का कांग्रेस में आना एक नया राजनीतिक समीकरण की स्थिति पैदा कर सकता है।

इसके अलावा बताया जा रहा है कुप्रबंधन का आरोप लगाते हुए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के चार नेता भी कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए हैं।

Story Source : http://www.thenationalive.com/congress-win-in-this-state-after-rahul-president/


शेयर करें