मध्य प्रदेश में कांग्रेस की जीत पक्की, इन दो सिकंदरों से मिलाया कांग्रेस ने हाथ, भाजपा में हडकंप

शेयर करें

देश की राजनीति में चुनावी मौसम के साथ ही राजनीतिक पार्टियां भी करवट बदल रही हैं। जहां भारतीय जनता पार्टी देश में अपनी सत्ता जमाए बैठी है वहीं कांग्रेस पार्टी भी अपनी मजबूत रणनीतियों के बल पर बीजेपी को कांटे की टक्कर दे रही हैं। जहां इस साल मध्य प्रदेश के आने वाले विधानसभा चुनाव दोनों पार्टियों के लिए काफी अहम साबित होने वाले हैं।

15 सालों से सत्ता पर काबिज बीजेपी का मध्य प्रदेश से होगा सफाया

मध्य प्रदेश की राजनीति में जहां 15 सालों से बीजेपी की सरकार है वहीं इस साल के चुनाव में बीजेपी को धूल चटाने के लिए कांग्रेस ने अपनी आगे की रणनीति पर अभी से काम करना शुरु कर दिया है।

वहीं दूसरी तरफ देखें तो राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने व पार्टी में सक्रियता दिखाने पर कांग्रेस को गुजरात विधानसभा में काफी अच्छे परिणाम देखने को मिले थे।

गुजरात जो कि बीजेपी का गढ़ माना जाता रहा है उस राज्य में कांग्रेस ने बीजेपी को जीत के लिए तरसा दिया था। जहां किसी को उम्मीद नहीं थी कि कांग्रेस को गुजरात की जनता का समर्थन मिल सकता है वहां राहुल गांधी के प्रचार ने जनता का दिल जीत लिया।

पार्टी के दो दिग्गज नेताओं ने की इन खास लोगों के साथ मुलाकात

इसी तर्ज पर कांग्रेस पार्टी मध्य प्रदेश के चुनावों के लिए भी अपनी रणनीति तैयार कर रही है। जिसके लिए बुधवार दोपहर मध्य प्रदेश में पार्टी कार्यालय में खास मीटिंग रखी गई।

जहां राहुल गांधी के राइट हैंड कहे जाने वाले रणदीप सुरजेवाला और पार्टी की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्देवी ने मध्य प्रदेश की राजनीति में अहम भूमिका निभाने वाले दो लोगों से खास बातचीत की है। पार्टी कार्यलय में हुई इस मुलाकात में व्यापम मामले को सक्रिय रुप से उजागर करने वाले डॉक्टर आनंद राय व यूट्यूब सेंसेशन अभिषेक मिश्रा मौजूद थे।

प्रियंका चतुर्वेदी के साथ तस्वीर साझा करते अभिषेक

यूट्यूब सनसनी अभिषेक मिश्रा से मिलकर प्रियंका चतुर्वेदी ने जाहिर की खुशी

शिवराज सिंह चौहान के लिए बड़ी चुनौती है डॉ. आनंद राय

 

मध्य प्रदेश की राजनीति की बात करें तो वहां शिवराज सिंह चौहान के लिए आनंद राय एक बड़ा विपक्षी चेहरा उन्हें कहा जा सकता है जो हमेशा सीएम चौहान के लिए एक चुनौती रहे हैं। राज्य में होने वाले भ्रष्टाचार व लापरवाहियों के लिए आनंद अपनी आवाज सक्रिय रुप से उठाते आए हैं।

आनंद राय के कांग्रेस में आने से कांग्रेस होगी एक कदम आगे

कांग्रेस कार्यलय में हुई इस मुलाकात को आने वाले चुनाव से जोड़े तो यकीनन पार्टी के लिए यह एक मजबूत कड़ी साबित होगी।

मौजूदा समय में बीजेपी व कांग्रेस पार्टी दोनों के पास ही शहरी क्षेत्र से आने वाला कोई चेहरा नहीं है ऐसे में अगर आनंद राय कांग्रेस के साथ आथते हैं तो इससे पार्टी की स्थिति मजबूत होगी और आने वाले चुनावों में कांग्रेस को इससे फायदा होगा।

आनंद से मिलने के बाद प्रियंका का आया ट्वीट


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े