शेयर करें

जहां विश्वभर में नए साल का पूरे दिल से स्वागत किया जा रहा था। तो वहीं देश के दुश्मनों के इरादें कुछ और ही थे। आतंकवादियों ने नए साल से एक दिन पहले जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हमला कर दिया। इस हमले में एक बार फिर से देश के जवानों को शहादत का सामना करना पड़ा।

और ये साल खत्म हुआ शहीदों की कुर्बानी के साथ। इस हमले में आतंकवादियों ने सीआरपीएफ कैंप को निशाना बनाया। जिसमें 2 जवान शहीद और 3 घायल हो गए। एक और साल गुजर गया जब देश की मोदी सरकार सरहद पर खड़े उन जांबाजों के लिए कुछ कर न सकी। और अपनी कुंभकर्णी नींद से उठने को राजी भी न हुई। इस जुमलेबाजी की सरकार से अगर उम्मीद भी करें तो क्या की जाए।

बीते साल के आखिरी दुन हुए इस हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। हमले में आतंकवादियों ने सीआरपीएफ कैंप को निशाना बनाया। लेकिन ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। इससे पहले भी साल 2017 में आतंकियों ने कई बार सुरक्षाबलों के कैंप को अपना निशाना बनाया है।

ऑपरेशन से लौट रहे जवानों पर हमला, 4 शहीद

फरवरी 2017 में घाटी के शोपियां जिले में सर्च ऑपरेशन खत्म कर वापिस लौट रहे सुरक्षाबलों पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया। इस हमले में 4 जवान शहीद हो गए थे। लेकिन क्रॉस फायरिंग के वक्त एक महिला को भी गोली ग गई थी जिससे उसकी मौत हो गई थी।

आर्मी कैंप पर हमला, 3 जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर

अप्रैल 2017 में कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के पंजगाम इलाके में स्थित आर्टिलरी हेडक्वार्टर 155 फील्ड रेजीमेंट कैंप पर फिदायीन हमला हुआ। इस हमले में सेना के एक कैप्टन समेत तीन जवान शहीद हो गए थे। लेकिन सेना की ओर से की गई जवाबी कार्रवाई में दो आतंकवादियों को भी ढेर कर दिया गया था।

सीआरपीएफ कैंप पर हमाला

जून 2017 में कश्मीर घाटी के बांदीपुरा जिले में एक सीआरपीएफ कैंप पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया था। सुरक्षाबल ने अपने साहस से इस हमले में चार आतंकवादियों को मार गिराया।

18 घंटे मुठभेड़, 8 जवान शहीद

वहीं अगस्त महीने में एक बार फिर से आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर हमला कर दिया। इस बार ये हमला जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुआ। फिदायीन आतंकवादियों ने जिला पुलिस लाइन पर हमला कर दिया। 18 घंटों तक चली इस मुठभेड़ में 4 पुलिसकर्मियों के साथ-साथ चार CRPF के जवान भी शहीद हो गए थे। गौरतलब है कि जवानों ने 3 आतंकियों को भी ढेर कर दिया था।

BSF कैंप पर हमला

अक्टूबर में श्रीनगर हवाईअड्डे के पास BSF कैंप पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया था। जिसके जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को ढेर कर दिया था। लेकिन हमले में बीएसएफ के एक ASI भी शहीद हो गए थे।

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

शेयर करें