अब रेलवे की यात्रा में नहीं नजर आएंगे किन्नर, बोर्ड का बड़ा फैसला

शेयर करें

भारतीय रेलवे बोर्ड की ओर से यह आदेश जारी कर कहा गया है कि 15 दिनों के अंदर देशभर की सभी ट्रेनों को किन्नर मुक्त किया जाए। इस आदेश के आने के बाद से ही रेलवे सुरक्षा बल अपनी हरकत दिखाते हुए जल्दबाजी में केवल किन्नरों के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने पर ही लगे हुए है।

जब रेलवे में किन्नरों को पैसा देने पर हुआ था हादसा

आपको बता दें कि दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के सालेम डिविजन में किन्नरों ने दो यात्रियों को पैसा न देने पर ट्रेन से नीचे फेंक दिया था। इस घटना में ट्रेन से नीचे फेंके गए दो यात्रियों में से एक की मौत हो गई थी जबकि एक यात्री अस्पताल में काफी गंभीर रुप से घायल हो गया था।

इस दुर्घटना में यात्री की हई मौत के बाद परिजनों ने ट्विटर पर रेलवे बोर्ड से शिकायत की, जिसके बाद रेलवे बोर्ड को होश आया है और बोर्ड ने 15 दिन के अंदर देशभर की सभी ट्रेनों को किन्नर मुक्त करवाने का आदेश दे दिया। जिसके बाद से ही अब रेलवे सुरक्षा बल किन्नरों के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है।

दो यात्रियों ने किन्नरों का किया था विरोध

खबरों के मुताबिक का जा रहा है कि 3 फरवरी 2018 को दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे स्थित सालेम मंडल के सोनाल कट्टी रेलवे स्टेशन की तरफ काफी संख्या में किन्नरों ट्रेन कोच के अंदर घुस गए थे औऱ यहां यात्रियों से जबरन पैसा वसूलने लगे थे।

इस दौरान जब के. सत्यनारायण समेत एक अन्य युवक ने किन्नरों का पैसे वसूले जाने पर विरोध किया तो किन्नरों ने दोनों यात्रियों को चलती ट्रेन से ही नीचे फेंक दिया। इस हादसे के दौरान ही सत्यनारायण की मौके पर मौत हो गई। वहीं दूसरा यात्री गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसका फिलहाल अस्पताल में इलाज किया जा रहा है।

15 दिन के अंदर रेलवे बोर्ड में पेश करना है जवाब

यात्री सत्यनारायण की मौत के बाद उसके परिजनों ने रेलवे बोर्ड से ट्विटर पर इस मामले की शिकायत कर दी। जिसके बाद बोर्ड होश में आया और उसने इस मामले में आदेश जारी किया, कि 15 दिन के अंदर देशभर की सभी ट्रेनों को किन्नर मुक्त किया जाए।

आदेश जारी होने के बाद रेलवे सुरक्षा बल भी की भी नींद खुल गई है। रायपुर रेलवे स्टेशन मुंबई-हावड़ा का मुख्य मार्ग है, यहां से एक दिन में तकरीबन 132 यात्री ट्रेनें अपडाउन करते हैं।

कई ट्रेनों में की जाती है किन्नरों द्वारा जबरन वसूली

रायपुर से गुजरने वाली ट्रेनों में भी किन्नर यात्रियों से जबरन वसूली करते हैं। रेलवे बोर्ड द्वारा आदेश जारी होने के बाद से ही रेलवे सुरक्षा बल की आनन-फानन हरकत नजर आ रही है।

वहीं रायपुर से गुजरने वाली ट्रेनों पर भी अब कार्रवाई शुरू कर दी गई है। किन्नरों के खिलाफ कार्रवाई कर 15 दिन के भीतर रेलवे बोर्ड में जवाब प्रस्तुत करना है।


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े