क्यों होता है एलपिजी गैस सिलेंडर का लाल रंग…?

शेयर करें

आज के युग में लगभग हर घर में एलपिजी गैस सिलेंडर से ही खाना बनाया जाता है। चाहे शहर हो या गांव अब सभी जगह सिलेंडर का इस्तेमाल किया जाता है। भारत में कई सारी एलपिजी गैस की कंपनी हैं, लेकिन सबके सिलेंडर का रंग लाल ही हैं।

लेकिन क्या कभी आपने सोचा है की इसका रंग हमेशा लाल क्यों होता है। अगर आप जानते हैं इसकी वजह तो अच्छी बात हैं, अगर नहीं जानते तो चलिए जानतें हैं।

ये है इसकी वजह

गैस सिलेंडर के लाल रंग होने के पीछे विज्ञान है। अब आप सोच रहें होंगे के विज्ञान का इसके रंग से क्या लेना है। विज्ञान में हर चीज़ के रंग का बहुत महत्त्व होता है। और लाल रंग को खतरे के संकेत के लिए इस्तेमाल करते हैं।

जैसा की एलपिजी एक बहुत ज्वलनशील गैस होती है|  इसी लिए एलपिजी सिलेंडर का रंग लाल होता है। चाहे कोई भी ज्वलनशील गैस हो उसे लाल सिलेंडर में ही रखा जाता है, जिससे यह पता चल जाता है की इसके अंदर ज्वलनशील गैस है।

जानिए किस रंग के सिलेंडर में होता है कौनसा गैस

सफ़ेद सिलेंडर- आप अक्सर हॉस्पिटल में जो सिलेंडर देखते है उसका रंग सफ़ेद होता है। और सफ़ेद रंग के सिलेंडर में ऑक्सीजन भरा हुआ होता है। जो गंभीर रूप से बीमार लोगो को ऑक्सीजन देने के काम आता है।

पीला सिलेंडर- पीले रंग के सिलेंडर में होती है जहरीली गैस|

नीला सिलेंडर- नीले रंग के सिलेंडर में नाइट्रस ऑक्साइड होता है।

ग्रे सिलेंडर- इस रंग के सिलेंडर में कार्बन-डाई-ऑक्साइड गैस होती है।

भूरा सिलेंडर- भूरे रंग के सिलेंडर में होता है हीलियम गैस।

काला सिलेंडर- काले रंग के सिलेंडर में होता है नाइट्रोजन गैस।

 


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े