शेयर करें
  • 26.6K
    Shares

पूर्व क्रिकेटर और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धु को जान का खतरा है. उनकी बढ़ती लोकप्रियता से उनके राजनीतिक विरोधी खार खाए बैठे हैं. सिद्धु पर कभी भी जान का खतरा हो सकता है.

सिद्धु को लगातार धमकियां मिल रही थी. इसी के मद्देनजर सिद्धु को जेड प्लस सुरक्षा मुहैया करा दिया गया है. पंजाब सरकार में मंत्री सिद्धु को सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक बुलेटप्रूफ लैंड क्रूजर कार दिया है.

भाजपाईयों के लिए खतरा बनें सिद्धु

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सिद्धु को पंजाब में कांग्रेस का प्रचारक नियुक्त किया तो कांग्रेस को जीत मिली. मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में प्रचार करने भेजा तो यहां भाजपा को धराशाही करके रख दिया. कुल मिलाकर सिद्धु भाजपा के लिए आफत बनते जा रहे थें.

वहीं पाकिस्तान के गुरुद्वारा करतारपुर साहिब का रुट खुलवा कर उन्होंने पूरी दुनिया के सिक्खों का दिल जीत लिया, यही वजह थी कि सिद्धु भाजपाईयों के निशाने पर आ गए थें. सोशल मीडिया पर लगातार भाजपा समर्थक नवजोत सिद्धु के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां करते हैं और धमकी भी देते हैं.

कांग्रेस ने की थी मांग

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर नवजोत सिंह सिद्धु की सुरक्षा बढ़ाने की मांग की थी क्योंकि हिंदुवादी संगठनों की ओर से उन्हें धमकी भरा पत्र और मेल भेजा गया था, हालांकि सिद्धु का कहना है कि उन्हें सुरक्षा की कोई जरुरत नहीं है.

मैं गुरु गोबिंद सिंह का वंशज हूं. मैं दुश्मनों से दो दो हाथ करने में खुद सक्षम हूं लेकिन सरकार ने सिद्धु की दलीलों को दरकिनार करते हुए उनकी सुरक्षा बढ़ा दी है.

सिद्धु की सुरक्षा में लगे 25 सुरक्षाकर्मी

नवजोत सिंह सिद्धु की सुरक्षा में पहले से 12 सुरक्षाकर्मी तैनात थें, जिन्हें बढ़ा कर 25 कर दिया गया है.

पंजाब सरकार के होम एंड जस्टिस डिपार्टमेंट के अडिशनल चीफ सेक्रेट्री निर्मलजीत सिंह कलसी ने केंद्रीय गृह सचिव राजीव गाबा को पत्र लिखकर कहा था कि सिद्धु ने शिरोमणि अकाली दल और भाजपा की जनविरोधी नीतियों और नशा माफियाओं से संबंधों को लेकर मोरचा खोल रखा है, जिस वजह से उन पर कभी भी जानलेवा हमला हो सकता है.


शेयर करें
  • 26.6K
    Shares