शेयर करें
  • 124.5K
    Shares

इन दिनों राहुल गांधी के जलवे हैं. देश हो या विदेश, अब राहुल गांधी की दीवानगी बढ़ती ही जा रही है. राहुल गांधी का धैर्य, सच और ईमानदारी ही उनकी ताकत बनती जा रही है.

दुनिया जहां राहुल गांधी को वर्ल्ड लीडर के तौर पर देखने लगी है तो वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि राफेल चोर और जुमलेबाज की बन चुकी है. प्रवासी भारतीयों के आग्रह पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का संयुक्त अरब अमीरात का दौरा प्रस्तावित है. राहुल गांधी के पूरे यूएई दौर का विस्तृत विवरण इस प्रकार से है.

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती

राहुल गांधी 11 और 12 जनवरी को यूएई के दौर पर होंगे. इसके लिए वो गुरुवार की शाम हो ही दिल्ली से दुबई के लिए रवाना हो जाएंगे. इस दौरान राहुल गांधी का हजारों प्रवासी भारतीयों के साथ मिलने जुलने का कार्यक्रम है.


राहुल गांधी का सबसे पहला कार्यक्रम 11 जनवरी को होगा जिसमें वो राष्ट्रपति महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के जश्न के तौर पर दुबई क्रिकेट स्टेडियम में आयोजित होने वाले सांस्कृति कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगे.

यहां राहुल शाम को 4ः30 बजे सभा को संबोधित करेंगे. यह कार्यक्रम रात्रि 8 बजे समाप्त हो जाएगा.

इंडियन बिजनेस प्रोफेशनल काउंसिल के साथ मीटिंग

 

वहीं 12 जनवरी को राहुल दुबई शासन के मंत्रियों और अधिकारियों, प्रवासी भारतीय कामगारों और इंडियन बिजनेस प्रोफेशनल काउंसिल के सदस्यों के साथ मुलाकात करेंगे.

इसके साथ ही विश्वविद्यालय के छात्रों के साथ भी राहुल की मीटिंग का अलग कार्यक्रम प्रस्तावित है. 12 जनवरी को ही अबूधाबी में राहुल गांधी का 200 विशिष्ट प्रवासी भारतीय नागरिकों के साथ लंच का कार्यक्रम है. इसके साथ हीं कांग्रेस अध्यक्ष अबूधाबी की मशहूर शेख जायद मस्जिद का दौरा करने भी जा सकते हैं.

राहुल के स्वागत की शानदार तैयारियां

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस यूएई दौरे को यादगार बनाने के लिए खास तैयारियां की गई है. दुबई और अबूधाबी शहर राहुल के स्वागत होर्डिंग्स और पोस्टर्स से पाट दिए गए हैं.

यूएई शासन ने भी शहर के प्रमुख चौक चौराहों पर राहुल गांधी के अभिनंदन में पोस्टर्स लगा दिए है.

सिक्ख समुदाय और पंजाबी समुदाय के लोगों ने अगले पीएम का स्वागतम जैसे बैनर लगाए हैं. बताते चलें कि इसके पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमेरिका, लंदन, जर्मनी, सिंगापुर और बहरीन में प्रवासी भारतीयों के साथ संवाद कार्यक्रम को संबोधित कर चुके हैं.


शेयर करें
  • 124.5K
    Shares