RELATED:अगर सुप्रीम कोर्ट ने ये विडियो देख लिया तोह...

वैसे तो भक्ति कोई प्रचार और प्रदर्शन का विषय है ही नहीं लेकिन भारत में शायद ये जरूरी हो गया लेकिन यहाँ जरूरी के लिए नहीं हम आपको जानकारी देने के लिए पोस्ट कर रहे कि राहुल गाँधी ने चामुंडा देवी के मंदिर में जाकर जो किया वो बताता है कि वो कितने जमीन से जुड़े और सादगी वाले इन्सान हैं !

क्या है पूरा मामला?

दरअसल मामला कुछ यूं है कि राहुल गाँधी अभी गुजरात में चुनाव को लेकर कांग्रेस की केम्पेन कर रहे हैं जिसके लिए उन्होंने कई रैलियां रखी हैं ! अभी जब राहुल गाँधी गुजरात के सुरेन्द्र नगर में चोटिला में पहुचे तो उन्होंने वहां चामुंडा देवी के दर्शन किये तभी मंदिर तक जाते हुए जो हुआ वो ब्रेकिंग न्यूज़ बन गया !

हुआ कुछ ऐसा कि राहुल गाँधी यहाँ मंदिर पर गये जो पहाड़ पर स्तिथ है और इसको चढ़ने के लिए उन्होंने 1000 सीढियां चढ़ीं और वो भी बिना रुके 15 मिनट में ! यहाँ राहुल गाँधी एक आम नागरिक के तरह गये ! राहुल चाहते तो यहाँ मोदी की तरह हेलिकोप्टर का भी प्रयोग कर सकते थे लेकिन माँ के दरवार में राजा की तरह नहीं रंक की तरह जाना चाहिए !

रास्ते में आम लोगों से भी मिले

राहुल ने यहाँ जनसुलभ होकर समय का सदुपयोग भी किया और अपनी यात्रा के दौरान लोगों से मिलते भी रहे ! लोगों को भी बड़ा अच्छा महसूस हुआ कि देश का एक बड़ा नेता उनके साथ आम नागरिक की तरह चल रहा है और उनके दर्द को समझ रहा है ! लोगों ने यहाँ राहुल को बहुत प्यार भी दिया और आर्शीवाद भी दिया !

जब राहुल मंदिर पहुंचे और यहाँ पर दादी इंदिरा और पापा राजीव का लिखा सन्देश देखा तो उनकी आँखें नम हो गयी और वो भावुक हो गये ! पोलिटिकल जानकार राहुल के इस कदम को भाजपा के तथाकथित हिंदुत्व वाले एजेंडे के काट के तौर  पर देख रहे हैं !

देखिये वीडियो:-

चामुंडा मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे राहुल, बिना रुके 1000 सीढियां चढ़े

Posted by Dainik Bhaskar on sábado, 30 de septiembre de 2017

 

--- ये खबर वरिष्ठ पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है वायरल इन इंडिया न्यूज़ पोर्टल के लिए

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट मैं छोड़े