कांग्रेस नेता की हत्या के मामले में 30 साल बाद आज आया कोर्ट का फैसला

हमारे देश की कानून व्यवस्था कुछ इस प्रकार की है कि यहाँ पर मामलों की सुनवाई होने में और उस पर फैसला आने में इतना समय लग जाता है कि फैसला आने तक आदमी फैसले की उम्मीद ही तोड़ देता है और फिर ऐसे इतने देरी से मिले न्याय को भी कहाँ तक आप न्याय की संज्ञा देंगे तो वो एक तरह से न्याय से बंचित रहने वाला मामला ही रह जाता है जिसके वजह से लोगों का कानून को लेकर थोडा भरोसा सा डगमगाता है |

कितने ही ऐसे मामले हैं जिनमे इतने सालों बाद फैसला आया कि तब तक न्याय की गुहार लगाने वाला ही भगवान को प्यारा हो जाता है और उसके बाद कहीं जाकर उसका फैसला आता है जो उसके हक में है या नहीं ये  उसे पता ही नहीं चल पता है | कितने ही मामले हैं जो फाइल्स में पड़े हुए धूल फांक रहे हैं क्योकि उनपे सुनवाई ही नहीं हो रही है |

अभी 30 साल बाद दिया है अदालत ने एतिहासिक फैसला

जी हाँ आप चौंकिए नहीं क्योंकि आपने सही सुना है और इस मामले 30 बाद ही फैसला आया है | अदालत ने जिस मामले में अपना फैसला दिया है उसको हुए ही 30 साल का समय गुजर चुका है | अदालत ने शनिवार के रोज कांग्रेसी नेता की हत्या के आरोप में हत्यारों को आजीवन कारावास की सजा मुकरर्र की है | बताया जा रहा है कि आरोपियों ने वरिष्ठ कांग्रेसी नेता की हत्या जमीन के विवाद को लेकर उसे कुचलकर कर दी थी |

Malegaon Election: BJP's all Muslim candidates lost

नगर पंचायत की जमीन कब्ज़ा का था मामला

ऐसा बताया जा रहा है कि हत्या के आरोपियों ने 30 साल पहले नगर पंचायत की जमीन पर कब्जा करते हुए उसे हथिया लिया था | इस बात का वहां की रामलील कमेटी  ने जमकर विरोध किया था | यही वो इकलौती वजह थी जिसको लेकर आरोपी हत्यारों और कांग्रेसी नेता के बीच विवाद चल रहा था | विवाद ने कुछ तरीके से तूल पकड़ा कि मामला विवाद से बढ़कर कांग्रेसी नेता की हत्या तक पहुँच गया |

12 सितम्बर को की गयी थी कांग्रेसी नेता की हत्या

बताया जा रहा है कि मामला यूपी के फिरोजाबाद जिले का है जहाँ पर आरोपियों ने कांग्रेसी नेता,पशु चिकित्षक और फरीहा रामलीला कमेटी के अध्यक्ष पंडित पंडित ओमदत्त मिश्रा और उनके सहयोगी जीतेन्द्र पर आरोपियों ने जानलेवा हमला कर दिया था |

आरोपियों ने पहले तो इन लोगों को लाठियों से जमकर पीटा और उसके बाद बस के नीचे कुचलकर इनकी निर्मम हत्या कर दी गयी | इसका हत्या के विरोध में तीन दिन तक बाज़ार बंद रहा | कोर्ट ने इस आरोपियों को आजीवन कारावास के साथ 25-25 हजार का जुरमाना भी लगाया है |

देखिये वीडियो:-

Source-http://www.newstimes.co.in/news/52619/Bharat/UTTAR-PRADESH/three-decades-old-case-court-Historic-decision-Congress-leader-killed

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

पोपुलर खबरें