Congress

एक्शन में दिखे राहुल गाँधी, हिमाचल में 2 पूर्व मंत्रियों सहित 37 नेताओ को…….

पार्टी अध्यक्ष की कमान राहुल गांधी के हाथ में आते ही पार्टी में कई बेहतरीन बदलाव देखने को मिल रहे हैं। हाल ही में हुए गुजरात के विधानसभा चुनाव के बाद से ही पार्टी के शानदार प्रदर्शन से और जनता द्वारा मिले परिणामों से पार्टी कार्यकर्ताओं में एक नया जोश भी है।

नए अध्यक्ष के साथ कांग्रेस पार्टी नए जोश में

इन सबके बीच पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी आगे की रणनीति को एक एक कदम सोच समझ कर रखना चाह रहे हैं। इसकी एक खास वजह है कि इस साल देश के 8 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव और उसके बाद 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव जिसकी तैयारी पार्टी ने अभी से करनी शुरु कर दी है।

कड़ी कार्रवाई करते हुए 37 नेताओं को किया बर्खास्ता

कांग्रेस के एक्टिव मोड को देखते हुए बात करें, aतो हाल ही में पार्टी ने अपने नेताओं पर बड़ी कार्रवाई करते हुए पार्टी से 2 पूर्व मंत्रियों सहित 37 नेताओं को पार्ची से बाहर का रास्ता दिखाया है। हिमाचल प्रदेश चुनाव की हार के बाद पार्टी का यह अभी तक सबसे बड़ा फैसला है।

6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित व प्राथमिक सदस्यता भी रद्द

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने पार्टी के 37 नेताओं को निष्कासित कर दिया है। आपको बता दें इस कार्रवाई में बर्खास्त किए गए नेताओं को 6 साल के लिए पार्टी से निकाला गया है। साथ ही इनकी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता भी रद्द कर दी गई है।

इन बड़े नेताओं का नाम है शामिल

पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के आदेश पर ही चुनाव प्रत्याशी, ब्लॉक और जिला कांग्रेस कमेटी की सिफारिश पर ही पार्टी सदस्यों के खिलाफ यह कदम उठाया गया है। पार्टी से बाहर निकाले गए इन नेताओं में पूर्व मंत्री व उपाध्यक्ष रंगीलाराम राव, पूर्व मंत्री व उपाध्यक्ष टेक चंद डोगरा, पूर्व विधायक मनजीत डोगरा और एनएसयूआई अध्यक्ष करुण शर्मा जैसे बड़े मंत्रियों के नाम शामिल हैं।

हिमाचल प्रदेश चुनाव में बीजेपी ने मारी थी बाजी

आपको बता दें कि पार्टी से निष्कासित किए गए इन नेताओं में ज्यादातर वो नाम शामिल हैं जो पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के करीब होने के लिए पहचाने जाते हैं। राज्य की कांग्रेस पार्टी इससे पहले भी करीब 50 से 60 लोगों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा चुकी है।

आपको बता दें कि साल 2017 के आखिर में हिमाचल प्रदेश में हुए विधानसभा के चुनावों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच के मुकाबले में बीजेपी ने बाजी मारी थी। राज्य की 68 सदस्यों वाली विधानसभा में बीजेपी ने 44 सीटों पर अपनी जीत दर्ज की थी।

नयी खबर पढने के लिए अगले अगले पेज पे जाएँ

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े