कांग्रेस के भारत बंद को समर्थन देने की मची होड़, इन बड़े दलों ने दिया समर्थन

शेयर करें

वैसे तो कांग्रेस पार्टी बंद या चक्का जाम जैसे कार्यक्रमों के पक्ष में नहीं रहती लेकिन आम आदमी के दबाव के बाद कांग्रेस ने पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में वृद्धि, राफेल डील घोटाला और दलितों पर बढ़ते अत्याचार के खिलाफ कांग्रेस ने आगामी 10 सितंबर को भारत बंद बुलाया है. इस बंद को कई दलों ने समर्थन देने का ऐलान कर दिया है.

1. काफी समय बाद कांग्रेस की बंदी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का मानना है कि बंद बुलाने से देश को नुकसान होता है. आम लोगों की मुसीबतें बढ़ती है लेकिन सोशल मीडिया पर आम आदमी कांग्रेस पर दबाव बनाने लगे थें. लोगों का मानना था कि पेट्रोल डीजल के भाव लोगों के कमर तोड़ रहे हैं और कांग्रेस को विपक्ष का धर्म निभाते हुए सड़क पर उतरना चाहिए.

2. इन दलों ने किया समर्थन

कांग्रेस की ओर से बुलाए गए इस भारत बंद का समर्थन लालू प्रसाद यादव की राष्ट्रीय जनता दल, बहुजन समाज पार्टी, समाजवादी पार्टी, डीएमके, एनसीपी, लोकतांत्रिक जनता दल, सीपीएम, सीपीआई, जेडीएस, राष्ट्रीय लोक दल, झारखंड मुक्ति मोर्चा, नेशनल कॉफ्रेंस आदि दल शामिल हैं जबकि ममता बनर्जी का कहना है कि उनकी पार्टी कांग्रेस के बंद का समर्थन करती है पर बंद के लिए सड़क पर नहीं उतरेगी.

3. कई सामाजिक संगठन भी बंद में

राजनीतिक दलों के अलावा कई सामाजिक संगठन भी कांग्रेस के बंद का समर्थन कर रहे हैं. इनमें कई दलित, अल्पसंख्यक, ओबीसी, बहुजन समाज के संगठनों के अलावा पूर्व सैनिकों का संघ भी शामिल है जो भाजपा के खिलाफ सड़क पर उतर कर अपना विरोध प्रकट करेगा.

4. लगातार बढ़ रहे पेट्रोल डीजल के दाम

पेट्रोल डीजल के दामों में रोजाना बढ़ोत्तरी हो रही है जिस वजह से लोग परेशान है. सरकार उपाय करने की बजाय रोजाना नए नए तर्क गढ़ रही है. उम्मीद लगाई जा रही है कि कांग्रेस के इस बंद को आम आदमी का समर्थन मिलने की संभावना जताई जा रही है.

निष्कर्ष :

कांग्रेस को यह सुनिश्चित कर देना चाहिए कि बंद शांतिपूर्ण हो और सांकेतिक हो. आम आदमी परेशानी से बचे, इसकी हरसंभव कोशिश होनी चाहिए.


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े