मध्यप्रदेश में भाजपा को लगा ये बहुत बड़ा झटका, भाजपा आई सदमे में

भाजपा के लिए हर तरफ से बुरी ही खबर आरही है ! ऐसा इसलिए भी क्योकि जनता भारतीय जनता पार्टी से अब ऊब चुकी है और न सिर्फ जनता बल्कि इनके खुद के कार्यकर्ता और नेता भी भाजपा से त्रस्त हो चुके है और वो पार्टी छोडकर जा रहे हैं !

क्या है मामला

ये खबर अभी ठंडी भी नही हुई थी कि मान.अरुण यादव जी की मौजूदगी में भाजपा के 100 कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस का दामन थामा और इसके बाद दूसरी बड़ी खबर सतना से आरही है जो भाजपा के लिए घातक है !

खबर है कि सतना के विरसिंघपुर में किसान स्वाभिमान महासभा में  नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल की मौजूदगी में जिला पंचायत सदस्य और भाजपा नेता शांतिभूषण पाण्डेय ने 2000 भाजपा कार्यकर्ताओं सहित कांग्रेस की सदस्यता ले ली !

क्या बोले अजय सिंह इस सभा में

इस सभा में अजय सिंह ने मुख्यमंत्री पर जनता की गरीबी का मजाक उड़ाने का आरोप लगाते हुए कहा कि जहाँ जहाँ चुनाव होते हैं वहां वहां मुख्यमंत्री रातों रात हजारों लोगों के नाम गरीबी रेखा में जुडवाते हैं और चुनाव होने के बाद वो सारे नाम काट दिए जाते हैं !

क्या सबूत दिए अजय ने अपने आरोप के

इस सम्बन्ध में अजय ने मैहर विधानसभा का उदाहरण देते हुए कहा कि चुनाव के पहले वहां 25 से 30 हजार लोगों के नाम गरीबी रेखा में जोड़े गये और चुनाव होने के बाद सारे के सारे नाम काट दिए गये !

इससे साफ जाहिर होता है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री का मुख्य उद्देश्य किसी भी तरह बस चुनाव जीतना है और उन्हें जनता की तकलीफों से कोई लेना देना नहीं है ! नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि 14 साल के भाजपा के शासन में 50 हजार से अधिक किसानों ने आत्महत्या की ! 14 साल के शासन में सैकड़ों ही किसानों को गोलियों से भून दिया गया !

भाजपा से जनता अब उकता गयी है और ऐसा लग रहा है कि मध्यप्रदेश में इस बार सत्ता पलट होगी और जनता भाजपा को वापसी का रास्ता दिखाएगी !

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट मैं छोड़े

पोपुलर खबरें