योगी ने मस्जिद को लेकर फिर जहर उगला, नया बयान आया सामने

बात कुछ ऐसी है कि आप कितना भी किसी को बदलने की या उसकी एक अलग छवि बनाने की कोशिश करो लेकिन जो उसकी असल तबियत है वो कहीं न कहीं अपना रंग जरुर दिखा जाती है! ऐसा ही कुछ उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ है!

सबका साथ सबका विकास की खुल गयी पोल

भाजपा वाले इस बात का बड़ा प्रचार करने में लगे हुए हैं कि वो सबका साथ सबका विकास के आईडिया को लेकर चलने वाले हैं लेकिन अक्सर उनका असली चेहरा सामने आ ही जाता है ! चूँकि आप जानते ही हैं कि योगी आदित्यनाथ अपने भड़काऊ भाषणों के लिए मशहूर है और जब से वो यूपी के सीएम बने हैं तब से पार्टी उनकी एक सेक्युलर छवि बनाने में लगी हुई है लेकिन योगी आदत से मजबूर है !

उसी मजबूर आदत के चलते उन्होंने एक बार फिर मस्जिद को लेकर विवादित बोल बोले हैं और कहा कि  वो बदले नहीं हैं बल्कि वहीँ पहले वाले योगी आदित्यनाथ है ! अगर वो मस्जिद में जायेंगे तो बुरका पहनना वो जरूरी नहीं समझते बल्कि वो अपनी वेशभूषा में ही जायेंगे !

बैठे बैठे समाज की शांति भंग करना ही काम है इनका

जी हाँ, कुछ इसी तरह का काम है इनका ! वरना क्या जरूरत थी इन्हें ऐसा बयान देने की? क्या किसी ने इन्हें मस्जिद में आमंत्रित किया या फिर ये किसी मस्जिद में जाने वाले हैं ? मैंने जानता हूँ कि इन दोनों में से कोई भी कारण नहीं है तो फिर ऐसे बयान देने की क्या जरूरत आन पड़ी? ऐसे ब्यान देने के पीछे क्या सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की मंशा का अंदेशा नहीं लगाया जायेगा?

अपनी बात को आगे कहते हुए वो बोले कि जो योगी पहले बोलता था आज भी योगी वही है और जो वो पहले बोलते थे वहीँ अब भी बोलेंगे !

यहाँ आगे बोलते हुए उन्होंने कहा कि मैं यूपी में अपने इतने दिनों के काम को 1 हजार अंक दूंगा ! सही है साहब दीजिये इतने अंक आखिर आपके नाम उपलब्धि भी तो है ! मसलन वो गोरखपुर में बच्चों की मौत हो या फिर दंगे हो या फिर तार-तार होती कानून व्यवस्था हो !

Source-http://vipaksh.in/VIN/820/yogi-about-masjid/

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

पोपुलर खबरें