सपाईयों की गुंडा पॉलिटिक्स ले डूबी गठबंधन को

RELATED: ज़ी न्यूज़ नहीं चाहता पब्लिक ये वीडियो देख ले

बहुत इंतज़ार के बाद आया 5 राज्यों का रिज़ल्ट, पर क्या हुआ बिलकुल उम्मीदों के विपरीत. हुआ ऐसे कि यूपी की जनता ने विकास की राजनीति पर वोट न करते हुए, भाजपा के शमसान और कब्रिस्तान वाले बयान को प्राथमिकता दी. कई बड़े बड़े दिग्गज साफ़ हो गए. लोगों इसे अखिलेश सरकार की गुंडागर्दी के  खिलाफ दिया गया वोट कहा. किसी ने इसे अमित शाह का मैनेजमेंट बताया पर. ये तो तय है, कि समाजवादियों की गुंडागर्दी कांग्रेस को भी ले डूबी. कुल मिलाकर उत्तरप्रदेश की जनता ने मुलायम सिंह के परिवार के विरुद्ध ये मेंडेट दिया.

भाजपा के सामने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी जैसे धराशायी सी हो गई. मायावती के लिए ये चुनाव किसी सपने से कम नहीं रहा, क्योंकि न सिर्फ मायावती की हार हुई बल्कि उनकी पार्टी अब खात्मे की कगार पर पहुँच गई.

मायावती ने इस चुनाव में धांधली की बात करके, एक नए विवाद को जन्म दे दिया है. उनके मुताबिक़ EVM से भारी छेड़छाड़ हुई है.

आईये देखें किसे कितनी सीट मिली

मोदी का सच अगले पेज पे देखे

Trending Stories

SHARE