भारत की दुर्दशा पर कांग्रेस को ज़िम्मेदार ठहराने वाले मोदी के लिए सुषमा स्वराज ने कही चौका देने वाली बात - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

भारत की दुर्दशा पर कांग्रेस को ज़िम्मेदार ठहराने वाले मोदी के लिए सुषमा स्वराज ने कही चौका देने वाली बात

जिस कांग्रेस को नीचा दिखा कर भाजपा सत्ता में आई आज सुषमा स्वराज ने जाने अनजाने अन्तराष्ट्रीय मंच से कांग्रेस की तारीफ कर साबित कर दिया की कांग्रेस ने देश को लूटा नही बल्कि तरक्की की और ढकेला है |

यू तो विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का उद्देश्य मोदी की योजनाओ को दर्शाना और पाकिस्तान पर करारा हमला बोलना था लेकिन सुषमा स्वराज ने भारत की तरक्की गिनाते हुए कांग्रेस का ज़िक्र भी कर डाला |

बता दें कि यूएन महासभा को संबोधित करते हुए सुषमा ने कहा, ‘‘भारत की आजादी के बाद पिछले 70 वर्षों में कई पार्टियों की सरकारें रही हैं और हमने लोकतंत्र को बनाए रखा और प्रगति की | हर सरकार ने भारत के विकास के लिए अपना योगदान दिया.’’

सुषमा स्वराज कहती है “भारत की पहचान दुनिया में आईटी से है”

विदेश मंत्री ने कहा, ‘‘हमने वैज्ञानिक और तकनीकी संस्थान स्थापित किए जिन पर दुनिया को गर्व है. परंतु पाकिस्तान ने दुनिया और अपने लोगों को आतंकवाद के अलावा क्या दिया?’’

उन्होंने कहा, ‘‘ हमने वैज्ञानिक, विद्वान, डॉक्टर, इंजीनियर पैदा किए और आपने क्या पैदा किया? आपने आतंकवादियों को पैदा किया… आपने आतंकी शिविर बनाए हैं, आपने लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद, हिज्बुल मुजाहिदीन और हक्कानी नेटवर्क पैदा किया है.’’

उन्होंने सवाल किया, ‘‘आज मैं पाकिस्तान के नेताओं से कहना चाहूंगा कि क्या आपने कभी सोचा है कि भारत और पाकिस्तान एक साथ आजाद हुए लेकिन आज भारत की पहचान दुनिया में आईटी की महाशक्ति क्यों हैं और पाकिस्तान की पहचान आतंकवाद का निर्यात करने वाले देश और एक आतंकवादी देश की क्यों है?’’

राहुल गाँधी ने दी शुष्मा को बधाई

‘सुषमा जी, आईआईटी और आईआईएम जैसे संस्थान बनाने के लिए कांग्रेस सरकार की महान दूरदर्शिता और विरासत को पहचानने के लिए… शुक्रिया.’

जिस आईटी क्रांति का ज़िक्र सुषमा स्वराज ने अपने भाषण में किया उसका बीज राजीव गाँधी ने पहले ही बो दिया था और ये उन्ही की देन है

राजीव गाँधी के भाषणों में अक्सर प्रगति और सुधारो का ज़िक्र हुआ करता था | ये उन्ही के शासन का नतीजा है जिसके कारण भारत आज आईटी क्रांति का युग देख रहा है | उन्होंने टेलीकॉम और इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी सेक्टर्स में विशेष काम करवाया |

सिक्के वाले फोन जो मोबाइल से चलते अब अतीत में बदल चुके हैं. उनकी सरकार ने पूरी तरह असेंबल किए हुए मदरबोर्ड और प्रोसेसर लाने की अनुमति दी| इसकी वजह से कंप्यूटर सस्ते हुए | ऐसे ही सुधारों से नारायण मूर्ति और अजीम प्रेमजी जैसे लोगों को विश्वस्तरीय आईटी कंपनियां खोलने की प्रेरणा मिली | आज के दौरा में विकास एक ऐसा जुमला है जो नरेंद्र मोदी के भाषणों में दीखता है |

देखिये वीडियो:-

वायरल इन इंडिया टीम

यह खबर वायरल इन इंडिया के वरिष्ट पत्रकार के द्वारा लिखी गयी है| खबर में कोई त्रुटी होने पर हमें मेल के द्वारा संपर्क करें- [email protected]आप हमें इस फॉर्म से भी संपर्क कर सकते हैं, 2 घंटे में रिप्लाई दिया जायेगा |

Close