शिवराज के राज में माँ की लाश बाइक पर बांधकर पोस्टमार्टम कराने पहुंचा बेटा

शेयर करें

देश में मोदी सरकार का 1 साल बाकी रह गया है लेकिन अब तक उनके किए गए वादों में से एक भी पूरा नहीं हो पाया है।  साल 2014 के लोकसभा चुनाव प्रचार में देश के प्रधानमंत्री मोदी ने आम जनता को देश के विकास के कई सपने दिखाए थे।  लेकिन वह सब सपने मोदी के विदेशी दौरों में ही वह छूमंतर होकर रह गए हैं। बीजेपी शासित राज्यों में लोगों को जमीनी सुविधाएं भी नहीं मिल पा रही हैं। ताज़ा खबर सामने आई है बीजेपी शासित मध्यप्रदेश से।

1. माँ का शव बाइक पर शव ले जाने को मजबूर बेटा


शिवराज सरकार के राज में प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्था की हालत बाद से बदतर होती जा रही है। दरअसल सोशल मीडिया के जरिए एक वीडियो सामने आई है। जिसमें एक बेटा अस्पताल प्रशासन द्वारा शव वाहन मुहैया ना कराने पर अपनी मां के शव को मोटरसाइकिल पर बांध कर ले जा रहा है। यह मामला मोहनगढ़ के मस्तापुर गांव से सामने आया है। जहां एक बुजुर्ग महिला की सांप के काटने से मौत हो गई।

2. शिवराज सरकार की हुई किरकिरी

इस मामले की सूचना बुजुर्ग महिला के बेटे राजेश ने पुलिस को दी तो मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम खुद कराने की जगह उसे ही कराने को कह डाला। मां की मौत पर दुख दिल में लिए राजेश ने जब जिला अस्पताल फोन कर शव वाहन मुहैया करवाने का अनुरोध किया तो अस्पताल प्रशासन ने उसकी बात नहीं सुनी। जिसके चलते राजेश अपनी मां के शव को मोटरसाइकिल से बांधकर 35 किलोमीटर दूर टीकमगढ़ में स्थित पोस्टमार्टम हाउस लेकर चला गया।

इस मामले के सामने आने के बाद प्रशासन और पुलिस विभाग की काफी आलोचना की जा रही है। इस मामले की वीडियो सामने आने के बाद डीएम ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं।

निष्कर्ष: राज्य की पुलिस और प्रशासन ने इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली हरकत की है जिसकी उन्हें सजा मिलनी चाहिए


शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े