लव जिहाद के नाम पर हत्या करने वाले शंभूलाल की मां ने किया बड़ा चौंका देने वाला खुलासा, हिंदूवादी नेताओं की उड़ जाएगी नींद

पिछले साल एक लाइव मर्डर की वीडियो सामने आने से पूरा देश हैरानी में था। राजस्थान में अफराजुल के साथ हुए इस घिनौने हत्याकांड ने पूरे देश को हिला कर रख दिया था। गौरतलब है कि शुरुआत में कहा जा रहा था कि इस हत्याकांड की मुख्य वजह लव जिहाद है लेकिन बाद में हकीकत कुछ और ही निकल कर सामने आई।

लव जिहाद के लिए नहीं की थी हत्या

शंभूलाल ने एक गरीब मजदूर अफराजुल की बेरहमी से हत्या इसलिए कर दी थी क्योंकि उसे अपना अवैध संबंध छुपाना था।

मामले में खुलासा हुआ कि शंभूलाल रैगर के किसी लड़की के साथ अवैध रिश्ते थे, जिसे छिपाने के लिए उसने ये जघन्य हरकत की थी।पुलिस के अनुसार आरोपी शंभूलाल रैगर से की गई पूछताछ में पता चला है कि वो एक लड़की के साथ अवैध रिश्ते में था और अपने परिवार और स्थानीय लोगों का ध्यान इससे भटकाने के लिए उसने अफराजुल का मर्डर किया था।

आरोपी शंभू ने लव जिहाद का नाम देते हुए पूरी वारदात को अंजाम दिया।

पुलिस की पूछताछ में ये भी सामने आया है कि आरोपी शंभूलाल नफरत वाली वीडियो देखा करता था, इसलिए उसे ऐसे शख्स की तलाश थी जिसे वह आसानी से अपना टारगेट बना सके। इसी भावना के साथ आरोपी ने अफराजुल को चुना और उसकी हत्या कर दी। इसके बाद पूरी वारदात का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

गौरतलब है कि इस वीडियो के वायरल होने के बाद सबसे शर्मनाक बात तो ये रही कि सांप्रदायिक मानसिकता वाले लोग शम्भूलाल के समर्थन में उतर आये थे। सोशल मीडिया पर अपील करके शम्भूलाल के लिए पैसा इकट्ठा करने की मुहीम शुरू कर दी गई थी। हालांकि अब इस मामले में एक नया खुलासा हुआ है।

कोई आर्थिक मदद नहीं मिली

यह खुलासा खुद शम्भूलाल की मां ने किया है। सोशल मीडिया पर इससे जुड़ा एक वीडियो सामने आया है जिसमे शम्भूलाल की मां दिख रही है।

इस वीडियो में हत्यारे की मां कहती दिखाई दे रही है कि हमें कोई मदद नहीं मिली है वह अपील कर रही है कि उन्हें बदनाम न किया जाये। सोशल मीडिया पर ये वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। यूजर्स इसे शेयर कर अपनी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

खबरें आई थी 2.5 लाख रुपये दिए गए

आपको बता दें कि राजस्थान के राजसमंद जिले में लव जिहाद के नाम पर अफराजुल की हत्या करने के आरोपी शंभूलाल रेगर की पत्नी को आर्थिक मदद पहुंचाने के लिए कुछ खबरें सामने आई थी।

जिसमें 516 लोगों ने 2.5 लाख से ज्यादा रुपये शंभूलाल की पत्नी के बैंक अकाउंट में जमा कर दिए थे। लेकिन जब पुलिस ने बैंक अकाउंट फ्रीज कर दिया, तो उसके घर पहुंचने लगे।

हिंदू एकता के नाम पर शंभूलाल रेगर के घर जा रहे लोगों में से करीब 40 ने दो लाख रुपये दिए हैं। उस वक्त पुलिस ने भी इस बात को माना था कि लोग पैसे पहुंचा रहे हैं लेकिन शंभू की मां की तरफ से किए गए इस खुलासे में तो कुछ और ही सामने निकल कर आ रहा है।

मां ने किया पैसों का दावा खारिज

शंभूलाल की मां ने सिरे से खारिज कर दिया है कि उन्हें न तो कोई पैसे दिए गए है और ना ही किसी तरह का सामान। उन्होंने कहा कि ये सब झूठी अफवाह है। उन्होंने कहा कि इस सबमें हमें कोई बदनाम मत करो।

देखिये वीडियो:-

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े

पोपुलर खबरें