होम BJP

लग गयी शाहनवाज़ हुसैन की वाट, भाजपा ने उन्हें कहीं का नहीं छोड़ा !

वायरल इन इंडिया संवाददाता -
शेयर करें

देश में जितना ज्यादा चुनावों का माहौल करीब आता जा रहा है, राजनीति में भी उतनी हलचल देखने को मिल रही है। फिर चाहे वो राज्यों में होने वाले उपचुनाव हो या फिर राज्यों में होने जा रहे विधानसभा चुनाव।

प्रत्येक नेता को उम्मीद है कि उसकी पार्टी उसे टिकट देगी। राजनीति में होने वाली यही फेर बदल के साथ पार्टियों की मनमाजी और नेताओं की नाराजी के कारण नए राजनीतिक समीकरणों के पैदा होने के आसार बढ़ जाते हैं।

चुनावी माहौल में बदलते राजनीति समीकरण

मौजदू समय की बात की जाए तो ऐसे हालात काफी बढ़ गए हैं। देखा जा रहा है कि अलग अलग पार्टियों के वरिष्ठ नेता अपनी पार्टियों से किनारा कर कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं।

हाल ही में बीजेपी से घर वापसी करने वाले अरविंदर सिंह लवली की खबरों ने काफी जोर पकड़ा था। ऐसा ही हाल बाकी नेताओं का भी है। जिन्होंने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए पार्टी को ही छोड़ दिया है।

पार्टी की मनमर्जी के खिलाफ नेताओं की दल बदली जारी

ऐसी दल बदलने वाली खबर आ रही है बीजेपी के कुछ अल्पसंख्य चेहरों में अहम माने जाने वाले शाहनवाज हुसैन की।

बता दें कि इन दिनों शाहनवाज भी बीजेपी से कुछ नाराज चल रहे हैं। उनकी नाराजगी वजह कुछ और नहीं बल्कि बिहार की लोकसभा सीट अररिया के उपचुनाव में पार्टी की ओर से टिकट न मिलना है।

अररिया लोकसभा से टिकट न मिलने पर शाहनवाज हुसैन की नाराजगी

अररिया लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव का ऐलान होते ही शाहनवाज हुसैन इसी उम्मीद में थे कि शायद अब उनाक वनवास खत्म हो जाएगा और उनको अररिया लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ने के लिए बीजेपी टिकट दे देगी।

इसी कारण शाहनवाज पिछले 3-4 महीनों से अररिया का लगातार दौरा भी कर रहे थे। लेकिन बीजेपी के बड़े अधिकारियों द्वारा शाहनवाज हुसैन को एक तरफ कर इस सीट से किसी दूसरे को टिकट देने की बात पर विचार कर रही है।

शाहनवाज ने दी बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व को धमकी

शाहनवाज हुसैन बीजेपी के इस रवैये से काफी नाराज हैं। करीबी सूत्रों का कहना है कि उन्होंने बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व तक अपनी नाराजगी बता दी है। साथ ही इस बात के भी संकेत दिए हैं कि यदि उन्हें अररिया से टिकट नहीं मिला तो वो बीजेपी को छोड़ किसी दूसरे पार्टी में शामिल हो सकते हैं।

केंद्रीय नेतृत्व पर कुछ बड़े नेताओं का दबाव

खबरें तो यह भी है कि शाहनवाज की नाराजगी को लेकर बीजेपी का केंद्रीय नेतृत्व काफी परेशानी में है।

लेकिन साथ ही खबर है कि बीजेपी के कुछ बड़े नेता शाहनवाज हुसैन को अधिक महत्व नहीं देना चाहते हैं, इसलिए वो लोग केंद्रीय नेतृत्व पर इस बात के लिए दवाब डाल रहे हैं कि शाहनवाज हुसैन को अररिया से टिकट नहीं दिया जाए।

 

शेयर करें

अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट में छोड़े