गुस्से में लोगों ने लगाए वापिस जाओ मोदी के नारे, मोदी को हेलीकाप्टर से भागना पड़ा - वायरल इन इंडिया - Viral in India - NEWS, POLITICS, NARENDRA MODI

गुस्से में लोगों ने लगाए वापिस जाओ मोदी के नारे, मोदी को हेलीकाप्टर से भागना पड़ा

कावेरी जल विवाद पर हुआ मोदी का विरोध

साल 2014 में बीजेपी जिस मोदी लहर के सिर पर इतना उड़ रही थी, अब उसी से उन्हें जमीन पर गिरा दिया है।

हाल ही में वक़्त में जिस तरह से बीजेपी की फजीहत हो रही है। उससे लग रहा है की अब केंद्र में पीएम मोदी कुछ ही वक़्त के मेहमान रह गए हैं। अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में न ही मोदी लहर आएगी और न ही मोदी के नाम पर बीजेपी पर वोटों की बौछार होगी।

पार्टी के खिलाफ जिस तरह से जनता का विरोध बढ़ता जा रहा है, उस हिसाब से बीजेपी का इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव जीतना भी मुश्किल नज़र आ रहा है।

1. मोदी को तामिलनाडु में दिखाए गए काले झंडे

अब आलम ये है की जनता ने बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी को सीधे-सीधे नकारना शुरू कर दिया है। इसका एक उदारहण हाल ही में देखने को मिला है। जब लोगों मोदी के दौरे को इतना मुश्किल बना दिया की उन्हें हेलीकॉप्टर के जरिये एंट्री लेनी पड़ी।जी हाँ ये घटना है चेन्नई की।

जहाँ पर लोगों ने पीएम मोदी के दौरे का जमकर विरोध किया। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तमिलनाडु के दौरे पर गए थे। लेकिन तामिलनाडु की जानता मोदी से इतनी नाराज़ चल रही थी की उन्होंने पीएम मोदी को सड़क के रास्ते समारोह स्थल तक नहीं पहुंचें दिया।

दरअसल वहां पर जनता उन्हें काले झंडे दिखाकर उनका विरोध करने के लिए पहुंची थी। ये लोग कावेरी विवाद पर अपना विरोध जता रहे थे।

2. हेलीकॉप्टर से जाना पड़ा डिफेन्स एक्सपो

आपको बता दें की पीएम मोदी डिफेंस एक्सपो में शामिल होने के लिए तमिलनाडु पहुंचे थे। जहाँ उनके साथ डिफेन्स मिनिस्टर निर्मला सीतारमण भी थी।प्रधानमंत्री के दौरे के खिलाफ विरोध करने वाले संगठनों में इनमें तमिल आर्ट्स एंड कल्चर फोरम, एमडीएमके नेता वाइको, टीवीके नेता वेलमुरुगन के अलावा डीएमके के नेता भी शामिल हैं। इस प्रदर्शन का आइडिया डीएमके के नेता एम के स्टालिन का था

3. मोदी वापिस जाओ लिखकर उड़ाए गए काले गुब्बारे

दूसरी तरफ चेन्नई में लोगों ने पीएम मोदी के विरोध में काले गुब्बारे उड़ाए थे। इन बड़े गुब्बारों में मोदी गो बैक के नारे लिखे हुए थे। लोगों ने कहा अगर मोदी यहाँ से सीधा डिफेन्स एक्सपो भी चले जाए और उनको हमारे काले झंडे भले ही न दिखे लेकिन हमने काले बड़े गुब्बारे लगाए, वह ये काले गुब्बारे देख सकते हैं।

आपको बता दें की सुप्रीम कोर्ट ने कावेरी नदी के जल के बंटवारे में तमिलनाडु के हिस्से का पानी घटा दिया था और कर्नाटक का हिस्सा बढ़ा दिया था। इस बात से राज्य के कई संगठन नाराज हैं।

Related Articles

Close